जेएनएन, कानपुर : रेल बाजार थाने के हिस्ट्रीशीटर आशू यादव के अपहरण और हत्या के मामले में फरार चल रहे हिस्ट्रीशीटर प्रेमी-प्रेमिका के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। डीआइजी ने दोनों पर दस-दस हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया है। इनके दो करीबियों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की जा रही है। रेलबाजार के हिस्ट्रीशीटर खपरा मोहाल निवासी आशू यादव की 31 दिसंबर की रात हत्या कर दी गई थी। दो जनवरी को आशू का शव धर्मेंद्र नगर के किनारे स्थित एक स्कूल की बाउंड्री के बाहर लावारिस कार की पिछली सीट पर मिला था। पोस्टमार्टम में गला कसकर उसकी हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी। मामले का राजफाश करते हुए पुलिस ने जूही लाल कालोनी निवासी सचिन और किशन को गिरफ्तार किया था, जबकि शिवली थाने की हिस्ट्रीशीटर दीपिका शुक्ला और उसका प्रेमी अमित फरार है। रेलबाजार पुलिस ने दोनों आरोपितों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कराया है। वहीं डीआइजी डॉ. प्रीतिदर सिंह ने दोनों पर दस-दस हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया है। जल्द ही दोनों के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। कर चोरी का अपराध आइपीसी में दर्ज, मिली जमानत, कानपुर : कर चोरी का एक मामला कचहरी में सुर्खियां बना हुआ है। दरअसल विभाग ने इसमें कर चोरी तो पाई, लेकिन अधिनियम के तहत खुद कार्रवाई न करके मामला पुलिस को सौंप दिया। विभागीय अधिकारियों की तहरीर पर पुलिस ने भी आइपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज बनाने और उनका प्रयोग कर धोखा देने और षडयंत्र में मुकदमा लिखा गया। खास बात कि अकेले व्यक्ति के खिलाफ दर्ज मुकदमे में षडयंत्र की धारा भी जोड़ दी गई। मामला कोर्ट पहुंचा तो विभागीय लापरवाही का लाभ आरोपित को मिला। न्यायालय ने जमानत स्वीकार कर ली।

यह था मामला: विशेष अनुसंधान शाखा अधिकारी संभाग सी ने कल्याणपुर के हरप्रीत सिंह रैना के यहां एक अक्टूबर 2018 को जांच की। जांच में अधिकारियों ने उनकी फर्म से कर चोरी का मामला पाया। कल्याणपुर थाने में कर चोरी संबंधित समस्त तथ्यों के साथ तहरीर दी गई। पुलिस ने इस मामले में वस्तु एवं सेवाकर अधिनियम 2017 की धाराओं की अनदेखी कर आइपीसी में मुकदमा दर्ज कर लिया। आरोपित को 27 दिसंबर 2020 को जेल भेजा गया था। कोचिग संचालक से मारपीट, लूट का आरोप, कानपुर : विकासनगर में युवकों ने शारदा नगर छपेड़ा पुलिया निवासी कोचिग संचालक रत्नेश त्रिपाठी से मारपीट की। आरोप है कि इस दौरान आरोपितों ने चेन, अंगूठी व नकदी भी लूट ली। पुलिस जांच में जुटी है। इधर, चमनगंज के श्रीनगर में बाइक सवार बदमाश ने इनवर्टर कारोबारी जितेश जायसवाल की पत्नी कोमल का फोन लूट लिया। वह जवाहरनगर निवासी बहन के घर से लौट रही थीं। थाना प्रभारी रमाकांत पचौरी ने बताया कि घटना संदिग्ध है। कोचिग संचालक का नशेबाजी को लेकर विवाद हुआ था। तहरीर आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। बुजुर्ग का मिला शव, महाराजपुर : महाराजपुर हाथीपुर रेलवे क्रासिग के पास लगभग 56 वर्षीय अधेड़ का शव रेलवे ट्रैक किनारे मिला था। शव की शिनाख्त हाथीपुर निवासी शिवनारायण के रूप में हुई। थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि घर से वो गुस्से में निकले थे। संभवत: आत्महत्या की है। जमानत पर छूटे आरोपित ने दुष्कर्म पीड़िता पर किया हमला, कानपुर : चकेरी में जेल से जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपित ने साथी के साथ मिलकर पीड़िता और उसकी बहन से मारपीट कर अश्लील हरकत की। पीड़िता का आरोप है कि जब वह थाने पहुंची तो उसे भगा दिया गया। इसके बाद उच्चाधिकारियों से गुहार लगाई है। चकेरी निवासी ट्यूशन टीचर से उसके एक छात्र के चाचा अभिषेक मिश्रा ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया था। इस दौरान आरोपित उसका अश्लील वीडियो भी बना लिया था। शादी का दवाब बनाने पर आरोपित ने पीड़िता के रिश्तेदारों को वीडियो भेज दिया था। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने अक्टूबर में आरोपित अभिषेक मिश्रा को जेल भेजा था। पीड़िता के मुताबिक 25 दिन पहले आरोपित जमानत पर बाहर आया है। इसके बाद से वह लगातार मुकदमा वापस लेने का दवाब बना रहा है। 22 जनवरी को अपनी बहन के साथ लाल बंगला बाजार गई थी। इस दौरान आरोपित ने अपने साथी के साथ उन्हें रामादेवी रेलवे ट्रैक के पास रोक लिया और चाकू दिखाकर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया। विरोध करने पर आरोपितों ने मारपीट और अश्लील हरकत की। शोर मचाने पर आरोपित भाग गए। थाना प्रभारी दधिबल तिवारी ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। बकायेदारों पर कसा शिकंजा, होटल कुर्क, कानपुर : प्रशासन ने शनिवार से बकाया वसूली अभियान शुरू कर बकायेदारों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया। इसके तहत दो बकायेदारों की संपत्ति को कुर्क कर दिया गया। तहसीलदार अतुल कुमार ने बताया कि शास्त्रीनगर के अरुण सिंह भदौरिया पर स्टांप कमी का वाद चल रहा था। उन पर 2,33,400 रुपये बकाया था। शनिवार को उनके अमन पैलेस होटल को कुर्क कर लिया गया। इसी तरह गुलमोहर गार्डन अपार्टमेंट फेज वन में रहने वाली संगीता देवी पर 2,44,220 रुपये बकाया था। धनराशि जमा न करने पर फ्लैट को कुर्क कर लिया गया।

27 साल बाद खाली हुआ होली मैदान: कानपुर : फेथफुलगंज स्थित होली के मैदान में पिछले 27 सालों से बने अवैध कब्जों को हटा दिया गया। यहां बने कब्जे छावनी बोर्ड ने गिराए। छावनी बोर्ड के जनसंपर्क अधिकारी अमित यादव ने बताया कि सर्वे नंबर 605/1172 में अवैध कब्जे की शिकायत आयी थी, जिस पर शनिवार को कार्रवाई की गई। अतिक्रमण के दौरान छावनी बोर्ड के सीईओ, एसीएम और पुलिस बल मौजूद रहा। जासं ट्रक नंबरों की मदद से मालिकों तक पहुंचेगी पुलिस, कानपुर : चकेरी में लोहा सप्लाई करने वाली कई कंपनियों के खिलाफ वाणिज्यकर विभाग ने 50 लाख से अधिक की टैक्स चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था। मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। छानबीन में सामने आया है कि कंपनियों ने एक हजार से अधिक ट्रकों से लोहे की सप्लाई की थी। अब क्राइम ब्रांच इन ट्रकों का ब्योरा जुटा रही है। कुछ गाड़ियों के नंबर क्राइमब्रांच को मिले हैं। जिन्हें संभागीय परिवहन विभाग को भेजा गया है। ट्रक नंबरों के आधार पर मालिक तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है। वाणिज्यकर विभाग ने वर्ष 2018 में आरएपी, महादेव एलायंस समेत एक अन्य कंपनी के खिलाफ टैक्स चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। क्राइम ब्रांच की छानबीन में सामने आया कि जिस कंपनी से करोड़ों का कारोबार हुआ उसके मालिक के नाम पते समेत अन्य सभी दस्तावेज फर्जी हैं। ये भी सामने आया कि कंपनी से एक हजार ट्रक लोहे के सप्लाई की गई थी। एसपी क्राइम डॉ. सुरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि जिन ट्रकों के माध्यम से लोहा सप्लाई हुआ है उनका ब्योरा जुटाया जा रहा है। कुछ ट्रकों के नंबर सामने आये हैं। मालिकों के बारे में पता लगाने के लिए नंबरों को आरटीओ भेजा गया है। उन्होंने बताया कि दस्तावेजों में जो मालिकों का पैनकार्ड मिला है। उसकी जांच के लिए वाणिज्यकर विभाग को भेजा गया है। वहीं पांच मोबाइल नंबरों पर सर्विलांस टीम की मदद से जानकारी जुटाई जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप