जालौन, जेएनएन। व्यापारी बनकर लोगों ने जनपद के पचास से ज्यादा किसानों के साथ एक करोड़ रुपये की धोखाधड़ी कर ली। किसानों ने पुलिस से आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर रुपया दिलाने की मांग की है।

ग्राम पिंडारी में डेढ़ करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी की घटना के बाद ग्राम कुंवरपुरा, तीतरा, खलीलपुर, रवा, भेंड़, कैंथी, कैलिया आदि गांवों के 52 किसान लाखों रुपये का गेहूं बेचने के बाद खाली हाथ रह गये।

किसानों ने बताया कि बीते अप्रैल माह में आरोपित गिरीश चतुर्वेदी, प्रशांत द्विवेदी, आशीष आदि उनके गांव आए और उनसे कहा कि वह 2200 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गेहूं खरीद लेंगे। गेहूं की ज्यादा कीमत तथा जल्द भुगतान होने के लालच में किसानों ने इन व्यापारियों को उपना गेहूं दे दिया। गेहूं लेने के बाद व्यापारी बनकर पहुंचे टप्पेबाजों ने किसानों को उरई स्थित बैंकों की चेकें उन्हें दे दीं। जब उन्होंने चेक अपने बैंक खाते में लगाई तो सभी चेक बाउंस हो गईं क्योंकि खातों में रुपया ही नहीं था।

किसानों का आरोप है कि आरोपितों ने व्यापारी बनकर एक साजिश के तहत उनका गेहूं ले लिया और रुपया नहीं दिया। किसानों ने सीओ राहुल पांडेय को सभी बाउंस हुई चेकें देते हुए आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है। । 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप