कानपुर, जेएनएन। यूपी बोर्ड की ओर से होने वाली जिन प्रायोगिक परीक्षाओं का इंतजार लंबे समय से छात्र और शिक्षक कर रहे थे, उसकी फरवरी में हो जाएगी। जिले में 13 फरवरी से लेकर 22 फरवरी तक 10वीं व 12वीं की प्रायोगिक परीक्षाएं कराई जाएंगी। बोर्ड ने कानपुर मंडल के लिए दूसरे चरण का चयन किया है। परीक्षाएं समय से हों, इसके लिए सभी डीआइओएस को निर्देश भेज दिए गए हैं। डीआइओएस सतीश तिवारी ने बताया कि इस संबंध में शुक्रवार को सभी प्रधानाचार्यों को दिशा-निर्देश देंगे। ताकि कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होने से वंचित न हो पाए।

सीसीटीवी की निगरानी में होगी परीक्षाएं

परीक्षाओं को लेकर बोर्ड की ओर से यह निर्देश भी दिए गए हैं, कि परीक्षाएं सीसीटीवी की निगरानी में हों। इसके अलावा परीक्षा के दौरान जो भी गतिविधि होंगी, उसकी पूरी रिकॉर्डिंग भी प्रधानाचार्य को सुरक्षित रखनी होंगी। जिन विद्यालयों में सीसीटीवी नहीं लगे होंगे, वहां प्रधानाचार्य को लगवाने होंगे। न लगवाने पर कार्रवाई होगी। साथ ही औचक निरीक्षण भी किया जाएगा।

50 फीसद अंक देंगे आंतरिक व वाह्य परीक्षक

प्रायोगिक परीक्षा के दौरान जो पूर्णांक होंगे, उनमें 50 फीसद अंक आंतरिक परीक्षक देंगे और 50 फीसद अंक का जिम्मा वाह्य परीक्षक का होगा। ऐसे में छात्रों को परीक्षा के लिए अपनी ठोस तैयारी करनी होगी। जिससे वह अच्छे से अच्छे अंक हासिल कर सकें।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप