जागरण संवाददाता, कानपुर : संगम एक्सप्रेस अब सप्ताह में सातों दिन चलेगी। रेलवे बोर्ड ने गुरुवार को इसकी अनुमति दे दी। अभी तक संगम एक्सप्रेस सप्ताह में तीन दिन चलाई जा रही थी। प्रयागराज से मेरठ के बीच चलने वाली संगम एक्सप्रेस 31 जनवरी से बदले शेड्यूल पर चलेगी।

------------

हावड़ा-बाड़मेर के फेरे मार्च तक बढ़ाए गए

हावड़ा से बाड़मेर साप्ताहिक सुपर फास्ट एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन मार्च तक बढ़ा दिया गया है। रेलवे ने इससे पहले 29 जनवरी तक इस ट्रेन के फेरे तय किए थे।

------------

31 से चलेगी एलटीटी प्रतापगढ़ एक्सप्रेस

एलटीटी प्रतापगढ़ एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन 31 जनवरी से फिर शुरू किया जा रहा है। ट्रेन संख्या 01073 मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रत्येक रविवार और मंगलवार की शाम 4:25 बजे चलकर दूसरे दिन दोपहर 2:05 बजे सेंट्रल पहुंचेगी। ----------- एक्सप्रेस-वे से शहर को जोड़ने के लिए होगा नए मार्ग का सर्वे

जागरण संवाददाता, कानपुर : लखनऊ- आगरा एक्सप्रेस वे को शहर से एक और रास्ते से जोड़ने के लिए अब लोक निर्माण विभाग संभावनाएं तलाशेगा। मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर ने विभाग के मुख्य अभियंता से कहा है कि वह कोई छोटा अलाइनमेंट देखें और यह प्रयास हो कि सड़क निर्माण में कम से कम भूमि का अधिग्रहण करना पड़े। सड़क बनने के बाद कम समय में ही एक्सप्रेस वे पर पहुंचा जा सके।

अभी अरौल के पास एक्सप्रेस-वे जीटी रोड से लिंक होता है। शहर से अरौल जाने के लिए 62 किमी की दूरी तय करनी होती है, लेकिन कई जगहों पर जाम का सामना करना पड़ता है। हालांकि जीटी रोड को अभी फोर लेन बनाने की तैयारी की जा रही है। फरवरी में निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। जीटी रोड चौड़ी हो जाने के बाद जाम की समस्या तो समाप्त हो जाएगी, लेकिन इस पर तब भी यातायात का दबाव रहेगा। यही वजह है कि मंडलायुक्त ने एक और मार्ग बनाने के लिए सर्वे करने को कहा है। वैसे पीडब्ल्यूडी ने पूर्व में पनकी से विषधन तक नहर पटरी का सर्वे किया था। इस पटरी पर सड़क बनाई जा सकती है, लेकिन इसके लिए सुरक्षा के तमाम उपाय भी करने होंगे क्योंकि तेज रफ्तार वाहनों के अनियंत्रित होने पर नहर में जाने का भी डर रहेगा।

मंडलायुक्त से बस्तियों की पैमाइश कराने की मांग

कानपुर : पीएम आदर्श ग्राम योजना राज्य सलाहकार समिति के सदस्य रविशंकर हवेलकर ने मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर व केडीए उपाध्यक्ष से मुलाकात कर उनको सफाई कर्मचारियों की कालोनियों सहित 35 दलित बस्तियों की सूची सौंपी। मांग की गई कि पुनरुद्धार योजना के अंतर्गत इनकी पैमाइश कराई जाए।

उन्होंने बताया कि किदवई नगर के वाई. ब्लॉक, पोस्ट आफिस, के. ब्लॉक गोवर्धनपुरवा, गोविदनगर, रामआसरे नगर, देवीगंज, शिवकटरा सहित कई बस्तियों के लोगों को पात्रतानुसार आवास आवंटित की जाए। इस मौके पर सीएल बढ़ेले, रमेश वर्षा, अरविद खन्ना, विनय सेन, राजू खान, अब्दुल नफीस मौजूद रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप