कानपुर, जेएनएन। समाज में बेटियों पर बढ़ रहे छेड़छाड़ से निजात दिलाने की मंशा से हेपकीडो बॉक्सिंग एसोसिएशन ने बुधवार को बेटियों को निश्शुल्क आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया। अर्मापुर स्थित भारत सेवक सदन इंटरमीडिएट कॉलेज में सुबह लगे प्रशिक्षण कैंप में आत्मरक्षा की बारीकियों से परिचित कराया गया। छात्राओं को किक, पंच के साथ आपात स्थिति में बचाव के तरीके व सामने वाले पर प्रहार करने का विशेष प्रशिक्षण दिया गया। उप्र हेपकीडो बॉक्सिंग के महासचिव आजाद सिंह ने बताया कि मिशन शक्ति के तहत स्कूलों में इस तरह के अभियान की शुरुआत कर बेटियों को मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूत किया जा रहा है। 

उन्होंने बताया कि कैंप में छात्राओं ने उत्साहपूर्वक प्रतिभाग कर बॉक्सिंग और किक करने का अभ्यास किया। संघ की बालिका वर्ग की खिलाडिय़ों द्वारा छात्राओं को मानसिक रूप से मजबूत करने के लिए विशेष सत्र का आयोजन भी किया गया, जिसमें छात्राओं की समस्याओं का समाधान करने के विकल्प बताएं गए। कई छात्राओं ने कैंप में बारीकियां सीखकर अन्य छात्राओं को सामने नजीर पेश की।

उन्होंने बताया कि संक्रमण का प्रवाह कम होते ही मंडलस्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन कर स्कूलों को जोड़ा जाएगा। ताकि छात्राएं इस खेल से जुड़कर कॅरियर व आत्मरक्षा कर सके। इस अवसर पर विद्यालय प्रबंधक शैलेंद्र कुमार सिंह, हैपकीडो बॉक्सिंग के टेक्निकल सेक्रेटरी अरविंद कुमार, सूर्यभान पांडेय, शैलेश यादव, विजय कुमार, अवनीश तिवारी आदि उपस्थित रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021