कानपुर, जेएनएन। दलहन अनुसंधान केंद्र के फार्म हाउस के पास गुरुवार की शाम आधा दर्जन बदमाशों ने स्कूटी पर जा रहे दो बैंक अधिकारियों के साथ लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया। बैंक अधिकारियों में एक महिला थी। इस तरह की सूचना आने पर पुलिस सक्रिय हुई, महिला अधिकारी ने लूटपाट की तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

कानपुर के काकादेव की निवासी शुभांशा सिंह बड़ा चौराहा स्थित एचडीएफसी लाइफ में कारपोरेट एजेंसी मैनेजर हैं। गुरुवार को वह मैनेजर (ट्रेनिंग) और गाजियाबाद के मोहन नगर निवासी अंकुर अग्रवाल के साथ गुरुवार की शाम करीब छह बजे स्कूटी से नानकारी जा रही थीं।अंकुर अग्रवाल दिल्ली में तैनात हैं और ट्रेनिंग के लिए बुधवार को कानपुर आए थे। शाम को ट्रेनिंग समाप्त होने के बाद वह नानकारी निवासी अपने साढ़ू से मिलने शुभांशा के साथ उसकी स्कूटी से जा रहे थे।

स्कूटी अंकुर चला रहे थे। शाम को करीब साढ़े छह बजे वह रास्ता भटक कर दलहन अनुसंधान केंद्र के नारामऊ के फार्म हाउस के सुनसान रास्ते पर जा पहुंचे। इन पीडि़तों के मुताबिक उन्होंने सड़क पर खड़े दो युवकों से रास्ता पूछने के लिए स्कूटी रोकी तो उनमें से एक ने स्कूटी की चाभी निकाल ली और मारपीट शुरू कर दी। इसी बीच खेतों से चार और लोग निकल आए। उन्हें बंधक बना लिया और खेतों की ओर ले गए। आरोप है कि बदमाशों ने महिला अधिकारी से हीरे की अंगूठी, दो मोबाइल और ढाई हजार रुपये लूट लिए। जाते समय बदमाश महिला के मोबाइल से सिम निकाल कर उसे देते गए। इस बड़ी घटना की सूचना पर पुलिस सक्रिय हुई लेकिन महिला ने अपनी तहरीर तक केवल लूट का जिक्र किया है। 

सीओ अजय सिंह का कहना है कि लूटपाट की सूचना आई है। तहरीर मिल गई है। मुकदमा दर्ज कर बदमाशों की तलाश की जा रही है।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप