जागरण संवाददाता, कन्नौज : हवा की दिशा बदलने से मानसून एक बार फिर सक्रिय हुआ और रविवार शाम को इत्रनगरी में बारिश हुई, इससे मौसम खुशनुमा हो गया और लोगों को गर्मी व उमस से कुछ हद तक निजात मिली। मौसम विभाग का कहना है कि दक्षिण-पश्चिम हवा के कारण उत्पन्न हुए विक्षोभ से मानसून फिर सक्रिय हुआ है।

रविवार को सुबह से ही आसमान में काले बादल छाए थे। दोपहर में धूप तो नहीं निकली, लेकिन गर्मी व उमस बढ़ गई, जिससे जनमानस व्याकुल हो गया। शाम करीब पांच बजे अचानक तेज बारिश होने लगी, जो देर रात तक बूंदाबांदी के रूप में बरसती रही। इससे मौसम ठंडा हो गया। मौसम विभाग ने 71 मिमी बारिश दर्ज की है। मौसम वैज्ञानिक डा. सुनील पांडेय ने बताया कि हवा की दिशा लगातार बदल रही है, जिससे बंगाल की खाड़ी से आने वाला मानसून स्थिर नहीं हो पा रहा है। अभी तक हवा दक्षिण-पूर्व थी, जिससे हिमालय की तलहटी में एक ट्रफ रेखा बन गई थी। इसके कारण मानसून उत्तर-मध्य क्षेत्र की तरफ नहीं बढ़ पा रहा था। कम दबाव का क्षेत्र होने ने मध्य उत्तर प्रदेश के जिलों में हल्की बूंदाबांदी ही हो रही है। उन्होंने बताया कि अब विक्षोभ के कारण मानसून फिर सक्रिय हुआ है, जिससे दिल्ली, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य उत्तर प्रदेश में भारी बारिश होने की संभावना प्रबल हो गई है।

--------

रविवार को मौसम का हाल

अधिकतम तापमान - 30.4 डिग्री

न्यूनतम तापमान - 25.6 डिग्री

सापेक्षिक आ‌र्द्रता - 80 फीसद

हवा की दिशा - दक्षिण-पश्चिम

वर्षा - 71 मिमी

हवा की गति - 7.6 किमी प्रतिघंटा

---------

दक्षिण-पश्चिम हवा के विक्षोभ से बारिश हो रही है। मानसून फिर से सक्रिय हो रहा है, इससे अनुमान है कि जुलाई के दूसरे पखवारे में भारी बारिश होगी।

-डा. अजय मिश्र, मौसम वैज्ञानिक

Edited By: Jagran