-टंकी के दो ट्यूबवेल कई दिनों से खराब, दो आपरेटर की तैनाती

-20 गांव में टंकी से पानी की सप्लाई, 50 रुपये प्रतिमाह टैक्स वसूली

संवाद सूत्र, ठठिया : 20 दिनों से पानी की टंकी बंद होने से ग्रामीण पेयजल संकट से जूझ रहे हैं। इससे ग्रामीणों ने नाराजगी जताई। टंकी बंद होने से करीब 20 गांव के लोग पेयजल संकट से जूझ रहे हैं।

विकास खंड उमर्दा के भिखनीपुरवा में पानी की टंकी 1993 में बनी थी। टंकी को भरने के लिए तीन ट्यूबवेल लगे हैं। इसमें दो ट्यूबवेल खराब हैं और एक से भरपाई की जा रही है। इससे ग्रामीणों को पर्याप्त पानी नहीं मिल पाता था। अब तो टंकी 20 दिनों से पूरी तरह बंद हो गई है। कारण, टंकी से पानी छोड़ने व बंद करने वाला पंप खराब हो गया है। ग्रामीणों ने बताया कि पानी टैक्स के नाम पर 50 रुपये प्रतिमाह हर घर से जमा कराए जाते हैं, लेकिन ग्रामीणों को पानी नसीब नहीं होता है। पेयजल संकट से ग्रामीण जूझ रहे। टंकी पर दो आपरेटर तैनात हैं। टंकी से पानी की भुन्ना, उदईपुवर, फकरपुरा वरेबा, बिहारीपुर, जनेरी, चंदौली, संभरपुवर, बहसुइया, सुर्सी, प्रतापपुर, भवानीपुर, धन्नापुरवा सहित आसपास के 20 गांव में पानी की सप्लाई होती थी। ग्रामीण अयूब, कल्लू, शाहिद, जाकिर, हरिओम, बृजकिशोर, अजीत, मुन्ना, लखन, अवनीश, रामलखन सहित कई ग्रामीणों ने अफसरों से शिकायतें भी की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। तहसीलदार अनिल कुमार सरोज ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं था। जलनिगम के अधिकारियों से बात कर टंकी को जल्द ही शुरू कराया जाएगा।

Edited By: Jagran