जागरण संवाददाता, कन्नौज: ससुराल वालों से प्रताड़ित दो महिलाएं तीन तलाक का शिकार हो गईं। एक महिला को तो पति ने बीच रास्ते में गाड़ी से उतार कर तलाक दे दिया, जबकि दूसरी महिला के साथ मारपीट कर तलाक दे दिया गया। दोनों महिलाओं ने एसपी से शिकायत की, जिस पर दोनों का मुकदमा सदर कोतवाली में दर्ज कर लिया गया।

शहर के मोहल्ला हाजीगंज निवासी रुबीना बेगम ने बताया कि उसका निकाह सौरिख थाना क्षेत्र के ग्राम नादेमऊ निवासी शहंशाह पुत्र खलील के साथ हुआ था। दहेज में बाइक व चेन की मांग को लेकर सास सबाना, चचिया ससुर नवाब अली, चचिया सास रुखसाना ने उसके साथ मारपीट की। पति शहंशाह ने उसके सभी जेवरात छीन लिए और बोलेरो में बिठाकर मायके ले जाने की बात कहकर चल दिया। रास्ते में कन्नौज के गोलकुआं चौराहे पर गाड़ी से नीचे उतार दिया और तीन तलाक दे दिया। पीड़िता ने इस मामले की एसपी से शिकायत की। वहीं, शहर के मोहल्ला बजरिया शेखाना निवासी खालिदा खानम पुत्री हसमत अली ने बताया कि उसका निकाह जनपद उन्नाव की कोतवाली बांगरमऊ के गंजमुरादाबाद निवासी शमीम खां के साथ हुआ था। शादी के बाद पति समेत ससुरालीजन कार की मांग कर उसे प्रताड़ित करने लगे। ससुर वसीम खां, सास रजिया बेगम, फहीम खां, देवर फजले रहीम, ननद सबा, ननदोई आदिल, तैयबा, फैजान उर्फ लल्ला, खुर्शीदा खान ने मारपीट कर घर से निकाल दिया। इसके बाद पति ने उसे तीन तलाक दे दिया। पुलिस ने दोनों महिलाओं की शिकायत पर तीन तलाक अधिनियम व दहेज उत्पीड़न अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। प्रभारी निरीक्षक आलोक कुमार दुबे ने बताया कि दोनों मामलों की विवेचना की जा रही है।

Edited By: Jagran