संवाद सहयोगी, तिर्वा: ग्राम पंचायत में प्रधान पद के चुनाव को लेकर दो प्रत्याशियों के बीच मतदान केंद्र पर लाठियां व पत्थर चले। सोमवार को कोतवाली क्षेत्र के सिकरोरी गांव में मतदान शाम तक शांतिपूर्ण ढंग से चला। शाम 4.30 बजे विवाद होने लगा। प्रधान पद के लिए अजयपाल यादव व दूसरे पक्ष से मोहनलाल उर्फ भूरा यादव खड़े थे। मतदान समापन के समय दोनों पक्षों में फर्जी वोट डालने के आरोप-प्रत्यारोप पर विवाद होने लगा। जब तक पुलिस कुछ कार्रवाई करती, उससे पहले दोनों पक्षों में बूथ पर ही लाठियां व पत्थर चलने लगे। दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। ड्यूटी पर तैनात दारोगा व कांस्टेबल ने दोनों पक्षों को बूथ से दूर खदेड़ दिया। इसमें अजयपाल के पक्ष से इनके बेटे पुष्पेंद्र यादव, धर्मेद्र यादव, अंजली देवी, अश्वनी कुमार व पवन कुमार को चोटें आई। इनको मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। वहीं दूसरे पक्ष के लोग घरों से भाग गए। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही। दोषी पक्ष पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

घायलों को इमरजेंसी में नहीं मिले बेड

राजकीय मेडिकल कॉलेज में कोविड-19 के बढ़ते मरीजों को लेकर बेड की कमी होने लगी। इमरजेंसी में एक ही समय में मारपीट में घायल, सांस लेने में तकलीफ होने पर बीमार व एक्सीडेंट में घायल पहुंच गए। इससे बेड कम पड़ गए। मारपीट में घायल हुए लोग फर्श पर 30 मिनट तक लेटे रहे। डॉक्टरों ने बारी-बारी से इलाज किया। उपचार देने के कुछ घायलों को जनरल वार्ड में शिफ्ट किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप