जागरण संवाददाता, कन्नौज : बारिश के पानी से गंगा के जलस्तर में मामूली सी बढ़ोतरी हुई है। आगे जलस्तर बढ़ने की संभावना को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। राजस्व कर्मियों को लगाकर निगरानी कराई जा रही है।

जिले से गंगा व उसकी सहायक काली नदी गुजरी हैं। कन्नौज सदर व गुगरापुर ब्लाक क्षेत्र में गंगा नदी आती हैं। गंगा का चेतावनी बिदु 124.970, जबकि खतरे का निशान 125.980 मीटर है। गंगा किनारे गांवों में जलस्तर बढ़ने से बाढ़ आती है। बारिश से गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने लगा है। शुक्रवार को जलस्तर 121.710 मीटर दर्ज किया गया, जबकि इससे पहले 121.110 मीटर था। हालांकि जलस्तर में छह मिमी मामूली सी बढ़ोतरी हुई है। इससे किसी तरह का खतरा नहीं है, लेकिन आगे बारिश से बाढ़ की संभावना को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। गंगा व काली नदी किनारे 22 हाई फ्लड गांव चिह्नित किए गए हैं। लेखपाल व कानून गो को क्षेत्रों की जिम्मेदारी सौंपकर सक्रिय कर दिया गया है। बाढ़ शरणालय, चौकी, गोताखोर व नाव समेत अन्य इंतजाम भी जुटा लिए गए हैं। एडीएम गजेंद्र कुमार ने बताया कि गंगा व काली नदी के जलस्तर की निगरानी बराबर की जा रही है। अभी हालात सामान्य हैं। बाढ़ से निपटने के सभी इंतजाम भी पहले से कर लिए हैं।

ये बाढ़ शरणालय चिह्नित

महादेवी घाट, पुलिस लाइन, जूनियर हाईस्कूल भिम्मापुर्वा मजरा कटरी अमीनाबाद, पूर्व माध्यमिक विद्यालय जलालपुर कटरी बांगर, प्राथमिक विद्यालय क्षेमकली देवी, जूनियर हाईस्कूल गुगरापुर बांगर, देवदरबार आश्रम करीमपुर, प्राथमिक विद्यालय मिश्रीपुर व पूर्व माध्यमिक विद्यालय मरहरियापुर।

इन हाई फ्लड गांव की निगरानी

कटरी गंगपुर, कटरी कासिमपुर, कन्नौज कछोहा, दरियापुर चंदई, सलेमपुर रमई, चौधरियापुर कछोहा, कटरी फिरोजपुर, महावली, जलालपुर अमरा, कपूरपुर कटरी, तेरारागी, कटरी अमीनाबाद, कटरी डूगरपुर, दरियापुर पट्टी, गुगरापुर बांगर, सढि़यापुर बांगर, मिश्रीपुर अकौडनपुर्वा व बलीदादपुर।

Edited By: Jagran