संवाद सहयोगी, छिबरामऊ : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए नगर पालिका को अब तक एक भी जोड़ा नहीं मिल सका है। इससे लक्ष्य पूरा होने में अड़चन है। पूरे मामले में फिसड्डी नगर पालिका के बाबू व कर्मी कुछ कर नहीं पा रहे हैं। वहीं, विकास विभाग भी 44 में 12 जोड़ों की शादी करा सका है। बाकी की तलाश हो रही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने गरीब कन्याओं, विधवाओं की शादी के लिए सामूहिक विवाह योजना की शुरुआत की है। इसके अंतर्गत प्रशासन की ओर से शादी समारोह का आयोजन व उपहार के रूप में घरेलू उपयोगी सामान व चांदी की पायल समेत नकद धनराशि दी जाती है। आदेश के बाद नगर पालिका व विकास विभाग को शादी के लक्ष्य निर्धारित किए गए। इसमें छिबरामऊ नगर पालिका को 24 शादियां कराने और विकास खंड छिबरामऊ को 44 का लक्ष्य दिया गया। नगर पालिका ने कई स्थानों पर शिविर लगाए लेकिन अब तक कोई भी आवेदन शादी के लिए नहीं आया। कर्मी लगातार आवेदन का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि विकास विभाग ने सचिवों के माध्यम से तेजी दिखाई। अब तक 12 जोड़ों की शादी कराई जा चुकी है। इसके बाद से नए जोड़ों का चयन नहीं हो पाया है। 31 मार्च तक लक्ष्य को पूरा करना था। नगर पालिका में किसी भी आवेदन के न आने से ¨चता बढ़ी है। ऐसे में चर्चा है कि नगर पालिका में या तो कोई गरीब परिवार नहीं है या लोगों को यह योजना रास नहीं आ रही है।

अफसर बोले

बैठक में नगर पालिका व विकास खंड के अधिकारियों को लक्ष्य का निर्धारण किया गया था। समय पूरा होने के बाद नए सिरे से लक्ष्य निर्धारित किया जा रहा है। इस योजना को प्रत्येक जरूरतमंद तक पहुंचाया जाएगा। लापरवाही करने वालों पर कार्रवाई होगी।

-मंशा राम वर्मा, एसडीएम छिबरामऊ।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप