संवाद सहयोगी, छिबरामऊ: धोखाधड़ी कर अधिक जमीन का बैनामा कराने का आरोप नेत्रहीन ने लगाया। तीन को नामजद कर अज्ञात गवाहों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। कार्रवाई न होने पर अधिकारियों के कार्यालयों में भटकने को मजबूर हो रहे हैं।

कोतवाली छिबरामऊ के बनवारी नगर निवासी रामप्रकाश ने बताया कि वह 100 प्रतिशत नेत्रहीन दिव्यांग हैं। गांव बहवलपुर ऊर्फ बिशुनपुर हासिलपुर में एक प्लाट है। इसे 13 दिसंबर 2013 को खरीदा था। इस प्लाट का आधा हिस्सा वह बिक्री करना चाहते थे। जमीन का व्यापार करने वाले आवास विकास कालोनी निवासी व्यक्ति ने खरीदने की बात कही। पांच लाख में सौदा किया। 20 दिसंबर 2019 को एक बजे घर से उनका बेटा ले गया। फर्जीवाड़ा करके दो हिस्सों में बैनामा करा लिया। वह 10 मार्च 2021 को अपने हिस्से में नीव भरवाने गए तो बैनामा कराने वालों ने विरोध किया। फर्जीवाड़े की जानकारी होने पर उन्होंने मुकदमा दर्ज कराया। मुकदमे को दर्ज हुए एक माह होने जा रहा है, अब तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। प्रभारी निरीक्षक जय प्रकाश शर्मा ने बताया कि दो दिसंबर को बनवारी नगर निवासी रामप्रकाश सिंह की तहरीर पर आवास विकास कालोनी निवासी संजय सिंह भदौरिया, आकाश, गीता देवी व गवाहों के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज है। धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं की जांच उपनिरीक्षक कर रहे हैं। जांच के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। दोगुनी रकम करने का लालच देकर दिव्यांग से ठगे 50 हजार

संवाद सूत्र, ठठिया: झांसा देकर एक बीमा कंपनी में रुपये जमा कर पांच वर्ष में दोगुनी रकम के लिए दिव्यांग से 50 हजार रुपये ले लिए। समय पूरा होने पर दिव्यांग ने रुपये मांगे तो आरोपित ने देने से इन्कार कर दिया और मारपीट पर उतारू हो गया। पीड़ित ने पुलिस को तहरीर दी है।

थाना क्षेत्र के खग्गापुर्वा गांव निवासी प्रमोद कुमार दोहरे दोनों पैरों से दिव्यांग है। उन्होंने बताया कि थाना क्षेत्र के गूरा गांव निवासी एक युवक ने वर्ष 2015 में झांसा देकर 50 हजार रुपये ठग लिए थे। आरोपित ने कहा था कि बीमा कंपनी में रुपये जमा करने से पांच वर्ष में रकम दोगुनी हो जाएगी। समय पूरा होने पर आरोपित से रुपये मांगे तो उसने देने से इन्कार कर दिया। धीरे-धीरे सात वर्ष बीत गए, लेकिन आरोपित ने मूल रकम भी वापस नहीं लौटाई है। इससे परेशान होकर पीड़ित ने पुलिस को तहरीर दी है। प्रभारी निरीक्षक पीएन बाजपेई ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही और दोषी पाए जाने पर आरोपित पर मुकदमा दर्ज होगा।

Edited By: Jagran