अमरोहा। रूटा के समानांतर इकाई के गठन के मामले में तीन प्रतिवादियों ने अदालत में अपना जवाब पत्र दाखिल किया है। अदालत ने वादी पक्ष को 17 जनवरी को अपना पक्ष रखने के लिए तलब किया है। जबकि स्टे के बाद भी चुनाव कराने के मामले में अगली सुनवाई 15 जनवरी को होगी।

काबिलेगौर है कि रूटा के चुनाव को लेकर रुहेलखंड विश्वविद्यालय से संबद्धप्राध्यापक दो फाड़ हो गए हैं। अदालत में भी मुकदमा विचाराधीन है। जेएस हिंदू डिग्री कालेज के डा. अनिल रायपुरिया ने सिविल जज सीनियर डिविजन की अदालत में याचिका दायर कर रूटा के समानांतर इकाई के गठन पर रोक लगाने की मांग की थी। इस पर सुनवाई करते हुए सिविल जज सीनियर डिविजन राम नारायण ने सभी छह प्रतिवादी गण से जवाब मांगा था। इनमें से एक डा. नवनीत विश्नोई पहले ही अदालत से समय मांग चुके हैं। जबकि डा. पीके सिंह, डा. सुरेश सिंह व डा. एपी सिंह ने गुरुवार को अदालत में जवाब पत्र दाखिल किया। अब डा. कृपा शंकर सिंह व डा. बीपी सिंह को जवाब पत्र दाखिल करना है। इस मामले में गुरुवार को अदालत ने 17 जनवरी को वादी पक्ष को अपना तर्क प्रस्तुत करने के लिए तलब किया है। उधर स्टे के बाद भी चुनाव संपन्न कराने के मामले में चल रही सुनवाई 15 जनवरी को होगी। इस मामले में 19 लोगों के विरुद्ध याचिका दायर की गई थी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर