मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अमरोहा। छह महीने पहले काटन कारोबारी की हत्या का मामला संभल क्राइम ब्रांच सुलझाने का दावा किया है। दामाद की हत्या करने के आरोप में मृतक के ससुर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

काबिलेगौर है कि छह महीने पहले शहर कोतवाली के मुहल्ला घेर पछैयां निवासी काटन कारोबारी जुनैद की लाश राजकीय इंटर कालेज के मैदान में पड़ी मिली थी। उसके गले पर निशान बने थे। लाश मिलने से एक दिन पहले वह घर से मुरादाबाद के लिए निकला था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका था। इस मामले में मृतक के परिजनों ने उसके ही ससुर के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। जुनैद हत्याकांड की जांच शहर कोतवाली पुलिस से हटा कर असमौली पुलिस को भेजी गई। लेकिन बाद में इस मामले की जांच संभल क्राइम ब्रांच को सौंपी गई। सोमवार को क्राइम ब्रांच प्रभारी विजय कुमार राणा ने जुनैद के ससुर असलम मंसूरी निवासी मुहल्ला दानिशमंदान को गिरफ्तार कर लिया। उसे दामाद की हत्या करने का आरोप लगाते कोतवाली सदर में दाखिल कराया तथा बाद में जेल भेज दिया गया। वहीं दामाद के हत्यारोपी असलम मंसूरी ने खुद को बेकसूर बताया तथा कहा कि उसे साजिशन फंसाया जा रहा है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप