झांसी (जेएनएन)। देश की आजादी के प्रमुख गढ़ रहे झांसी से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दबंगई के बल पर निर्वाचन प्रक्रिया को दूषित करने का मंसूबा रखने वाले तत्वों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीधी चेतावनी दी। इसके साथ ही युवाओं को झांसी में बहुत बड़ी संभावना का रास्ता भी दिखाया। 

मुख्यमंत्री ने निकाय चुनाव को लेकर आज यहां जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि झांसी में कुछ प्रत्याशी मतदाताओं को धमका रहे हैं। प्रशासन ऐसे प्रत्याशियों से सख्ती से निपटे। चुनाव की पारदर्शिता, शुचिता प्रभावित नहीं होनी चाहिए। चुनाव के बाद ऐसी ताकतों से निपटा जाएगा। मुख्यमंत्री ने राजनीति पर लगे कलंक को धोने का प्रयास भी किया। उन्होंने कहा कि राजनीति सेवा का कार्य है। लूट-खसोट की छूट किसी को नहीं दी जाएगी। अगर कोई राजनीति को कलंकित करने का प्रयास करता है, तो उससे सख्ती से निपटा जाएगा।

विधायकों ने नगर निकाय चुनाव में ताल ठोक रहे अन्य दलों के कुछ प्रत्याशियों के मतदाताओं को धमकी देने की लिखित शिकायत सीएम को दी, तो उन्होंने मंच से ही दबंगों को ललकारा। सीएम ने कहा कि अन्य दलों ने कुछ गुंडों को टिकट दे दिए हैं। अब वह वोटर्स को धमका रहे हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि प्रदेश की सत्ता बदल गई है। अपराधी कहां जा रहे हैं, पता होना चाहिए। प्रशासन ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटे, वरना चुनाव के बाद क्या स्थिति उत्पन्न होगी, बताने की जरूरत नहीं। निकाय चुनाव यहां तथा प्रदेश में पूरी निष्पक्षता से होना चाहिए। पारदर्शिता पर अंगुली नहीं उठनी चाहिए। 

यह भी पढ़ें: प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बसपा को भाजपा से तगड़ा झटका

लोगों को नौकरी तलाशने बुंदेलखंड आना पड़ेगा 

झांसी में जनसभा में उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड को एक्सप्रेस - वे से जोडऩे का काम चल रहा है। इसके पूरा होने के बाद से दिन दूर नहीं है, जब देश के लोगों को नौकरी के लिए बुंदेलखंड आना पड़ेगा। सीएम योगी ने कहा कि बुंदेलखंड के सात बड़े जिलों में बड़ी गौशालाएं बनाई जाएंगी, जहां हर गौशाला में ढाई से तीन हजार गाय को रखने की व्यवस्था की जाएगी।

यह भी पढ़ें: व्यापारियों को शांति व सुविधा देने को प्रतिबद्ध है सरकार : योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में इतने सारे विदेशी प्रतिनिधिमंडल से मिले। जिसमें विश्व के सबसे अमीर आदमी बिल गेट्स भी शामिल थे। यह सभी लोग यूपी में निवेश करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश सरकार के साथ अब कोरिया बदलेगा अयोध्या की तस्वीर

अब उनको प्रदेश में स्थिति काफी अनुकूल लगने लगी है। मैंने उनसे पूछा कि उन्होंने पहले ऐसा क्यों नहीं किया। उन्होंने कहा कि इससे पहले की स्थिति काफी अनुकूल नहीं थी।

 

 

Posted By: Dharmendra Pandey