झांसी (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को झांसी की धरती से बुंदेलखंड में औद्योगिक क्रांति का शंखनाद किया। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और रक्षा उत्पाद बनाने वाली शीर्ष कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ उन्होंने डिफेंस कॉरिडोर को जमीन पर उतारने की रणनीति बनाई, तो लखनऊ समिट में साइन किए गए एमओयू का रिपोर्ट कार्ड भी प्रस्तुत किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड में 20 हजार करोड़ का शुरुआती निवेश होगा।
लखनऊ में हुए इन्वेस्टर समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुंदेलखंड को डिफेंस कॉरिडोर की सौगात दी थी, जिसे जमीन पर उतारने के लिए सोमवार को यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने रक्षा उत्पाद से जुड़ी शीर्ष कंपनियों के समक्ष डिफेंस कॉरिडोर का प्रजेंटेशन दिया गया। रक्षामंत्री ने बताया कि चेन्नई के बाद यह दूसरा डिफेंस कॉरिडोर है, जिसकी आधारशिला बुंदेलखंड में रखी जा रही है। बुंदेलखंड के अलावा इसका विस्तार आगरा, अलीगढ़, कानपुर व लखनऊ तक होगा। उन्होंने बताया कि इससे छोटी-छोटी औद्योगिक इकाइयों को बड़े अवसर मिलेंगे, तो युवाओं के लिए रोजगार सृजन होगा।

55 हजार करोड़ का निवेश इसी माह
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया लखनऊ समिट में चार लाख 68 हजार करोड़ के एमओयू साइन किए गए थे, जिसमें से 55 हजार करोड़ रुपये का निवेश इसी माह कराया जाएगा। शेष एमओयू को भी जमीन पर उतारने की रणनीति बनाई गई है, जिसके बाद प्रदेश के 33 लाख युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। उन्होंने कोच फैक्ट्री, फूड प्रोसेसिंग पार्क, क्रांति पथ समेत कई बड़ी योजनाओं के जल्द शुभारंभ का दावा कर लोकसभा चुनाव में विकास मॉडल के साथ जाने के संकेत दिए।

बदहाली के लिए पूर्ववर्ती सरकारें जिम्मेदार
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड की बदहाली के लिए पिछली सरकारों का दोष है। भाजपा बुंदेलखंड को संवारने का कार्य कर रही है। उन्होंने यहां 82 करोड़ की 35 परियोजनाओं का शिलान्यास व 34 करोड़ की चार परियोजनाओं का लोकार्पण भी किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज झांसी में दो दर्जन से भी अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। उन्होंने रक्षा मंत्री के साथ बैठक करने के साथ बुंदेलखंड को बड़े तोहफे दिये। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुंदेलखंड को डिफेंस कॉरिडोर व मेगा फूड प्रोसेसिंग प्लांट की सौगात देने के साथ कई परियोजना शिलान्यास और लोकार्पण भी किया। उन्होंने स्कूल चलो अभियान के तहत छात्र-छात्रों में ड्रेस वितरण करने के साथ स्वच्छ भारत मिशन की शपथ भी दिलाई। क्राफ्ट मेला मैदान में उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन की शपथ दिलाई। इसके साथ में स्वच्छता ग्रहणियों व ग्राम प्रधानों का सम्मान किया। इस दौरान झांसी की सांसद तथा केंद्रीय मंत्री उमा भारती भी मौजूद थीं। 

By Dharmendra Pandey