फोटो : 24 जेएचएस 4

झाँसी : ट्रांस्पोर्टर अरविन्द गुप्ता।

:::

0 मेडिकल कॉलिज में भर्ती दोस्त के बच्चे के लिए कराया खून का इन्त़जाम

0 रात 8.51 बजे वॉर्ड के बाहर स्कूटी खड़ी की, 10.21 पर बन्द हो गया मोबाइल फोन

0 पूरी रात और दिनभर परिजन करते रहे तलाश, कोई पता नहीं चला

झाँसी : बीमार दोस्त के बच्चे की मदद करने के लिए मेडिकल कॉलिज आया ट्रांस्पोर्टर रहस्यमय तरीके से गायब हो गया। खोजने पर उसकी स्कूटी खड़ी मिली। मोबाइल फोन तो रात से ही बन्द है। तमाम जगह खोजने के बाद भी जब उसका कोई सुराग नहीं लगा तो परिजनों ने पुलिस की मदद ली। पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर ली है।

नवाबाद पुलिस को बरुआसागर के मिलान मोहल्ला निवासी मुनन गुप्ता ने बताया कि उसके पति अरविन्द कुमार गुप्ता (50) 23 सितम्बर को पूर्वाह्न लगभग 11 बजे घर से स्कूटी (यूपी 93 एवी 4833) से निकले। पति के पास ट्रक है और वह ट्रांस्पोर्ट का व्यवसाय करते हैं। पति के मित्र सन्तोष हयारण के पुत्र की तबीयत खराब है और वह मेडिकल कॉलिज के वॉर्ड 5 में वेण्टिलेटर पर है। वह वहाँ गए और इसके बाद वापस नहीं लौटे। पुलिस ने जाँच की तो अरविन्द की स्कूटी मेडिकल कॉलिज के वार्ड 5 के बाहर खड़ी मिली। वहाँ लगे सीसीटीवी कैमरे को देखा गया तो अरविन्द ने 8.51 बजे गाड़ी को खड़ा किया। मित्र के पुत्र को खून की जरूरत थी तो उन्होंने खून का इन्तजाम किया। इसके बाद वह सीसीटीवी कैमरे में इमरजेन्सी की तरफ जाते ऩजर आए और फिर लापता हो गए। पुलिस ने अरविन्द के मोबाइल फोन की जानकारी की तो पता चला कि 10.21 बजे मोबाइल फोन स्विच ऑफ हुआ, और यह अभी भी बन्द चल रहा है।

24 इरशाद-1

समय : 6.35 बजे

Edited By: Jagran