फोटो : 15 बीकेएस 4

झाँसी : पत्रकारों से वार्ता करते ़िजलाधिकारी व सीएमओ। -जागरण

:::

0 15 दिन में 4 लाख लोगों को दिए जाएंगे गोल्डन कार्ड

0 अब तक 1.62 लाख लोगों को वितरित किए जा चुके हैं कार्ड

0 एक वर्ष में 5 लाख तक का नि:शुल्क उपचार की मिलेगी सुविधा

झाँसी : स्वास्थ्य विभाग ने अगर आयुष्मान भारत 2.0 अभियान को लक्ष्य तक पहुँचाया तो अक्टूबर माह में जनपद के 5 लाख से अधिक गरीबों को अच्छे इलाज के अभाव में तड़पना नहीं पड़ेगा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 16 से 30 सितम्बर तक अभियान चलाकर गोल्डन कार्ड बनाए जाएंगे। इसकी तैयारी कर ली गई है।

गरीबों को नि:शुल्क इलाज उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने आयुष्मान भारत प्रधानमन्त्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमन्त्री जन आरोग्य अभियान का शुभारम्भ किया है। इसके तहत गरीबों को गोल्डन कार्ड दिए जा रहे हैं, जिसके माध्यम से निजी अस्पताल में भी एक वर्ष में 5 लाख रुपए तक का नि:शुल्क उपचार कराया जा सकता है। झाँसी में 5.90 लाख लोगों को गोल्डन कार्ड दिए जाने हैं, जिसमें से अब तक 1.62 लाख लोगों को ही गोल्डन कार्ड मिल सके हैं। सरकार ने अब आयुष्मान भारत 2.0 अभियान का शुभारम्भ किया है, जिसके तहत अगले 15 दिन में 70 प्रतिशत लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड देने का लक्ष्य तय किया गया है। कलेक्टरेट स्थित कार्यालय में अभियान की जानकारी देते हुए ़िजलाधिकारी आन्द्रा वामसी ने बताया कि निगरानी समिति को ऐसे लोगों को चिह्नित करने की जिम्मेदारी दी गई है, जिनका नाम 2011 की सामाजिक एवं आर्थिक जनगणना की सूची में शामिल हैं। अभियान के तहत इनके कार्ड बनाए जाएंगे। उन्होंने शहरी क्षेत्र के लोगों से सम्बन्धित स्वास्थ्य केन्द्र व ग्रामीण क्षेत्र के लोगों से निगरानी समिति व सम्बन्धित स्वास्थ्य केन्द्र से सम्पर्क करने का आह्वान किया है। ़िजलाधिकारी ने बताया कि जनपद में 15 सरकारी व 13 निजी चिकित्सालयों में नि:शुल्क इलाज की सुविधा दी जाएगी।

इन चिकित्सालयों में मिलेगा इलाज

सरकारी अस्पताल : मेडिकल कॉलिज, ़िजला पुरुष चिकित्सालय, ़िजला महिला चिकित्सालय, भेल हॉस्पिटल, रेलवे हॉस्पिटल, बबीना स्वास्थ्य केन्द्र, बामौर स्वास्थ्य केन्द्र, मोठ स्वास्थ्य केन्द्र, मऊरानीपुर स्वास्थ्य केन्द्र, गुरसराय स्वास्थ्य केन्द्र, बड़ागाँव स्वास्थ्य केन्द्र, चिरगाँव स्वास्थ्य केन्द्र, बामौर स्वास्थ्य केन्द्र, समथर स्वास्थ्य केन्द्र, गरौठा स्वास्थ्य केन्द्र।

प्राइवेट चिकित्सालय : लाइफ लाइन हॉस्पिटल, माँ वैष्णो हॉस्पिटल, किलकारी हॉस्पिटल, चिरंजीव हॉस्पिटल, झाँसी ऑर्थोपेडिक हॉस्पिटल, हाइटैक हॉस्पिटल, उपचार हॉस्पिटल, सेण्ट मैरी हॉस्पिटल, लहरी इटालिया हॉस्पिटल, खुराना हॉस्पिटल, सुशीला हॉस्पिटल, राधा हॉस्पिटल, जियालाल हॉस्पिटल।

बॉक्स में

:::

अस्पताल भर्ती करने में आनाकानी करें तो हेल्पलाइन पर करें शिकायत

झाँसी : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि आयुष्मान योजना के तहत 15 सरकारी व 13 निजी चिकित्सालयों में गोल्डन कार्ड पर नि:शुल्क इलाज की सुविधा दी गई है। यदि किसी अस्पताल में भर्ती करने में आनाकानी की जाती है तो हेल्पलाइन नम्बर 180018004444 पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।

बीच में बॉक्स

:::

आयुष्मान कार्ड बनवाने की प्रक्रिया

0 2011 की सैक डेटा में लाभार्थी का नाम होना आवश्यक है।

0 व्यक्तिगत पहचान के लिए आधार कार्ड की छायाप्रति।

0 प्रधानमन्त्री का पत्र।

0 परिवार रजिस्टर की ऩकल।

यह सुविधा मिलेगी

0 प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख रुपए तक की नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा।

0 केवल भर्ती मरीजों को ही नि:शुल्क उपचार की सुविधा मिलेगी।

0 गम्भीर बीमारी जैसे हृदय रोग, किडनी रोग, घुटना प्रत्यारोपण, कैंसर, मोतियाबिन्द एवं सर्जरी आदि की सुविधा।

फाइल : राजेश शर्मा

Edited By: Jagran