0 सारन्ध्रा नगर-पुलिया नम्बर नम्बर 9 से होकर लोको शेड तक बननी थी सड़क

0 सर्वे करने के बाद विभाग नहीं दे रहे ध्यान

0 रोड के निर्माण से सैकड़ों लोगों को होगा लाभ, 5 किलोमीटर दूरी कम होगी

झाँसी : महानगर के बड़े तबके को यातायात की सुगम सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रस्तावित ललितपुर रोड-रेलवे स्टेशन लिंक रोड का निर्माण उदासीनता के चलते अधर में लटक गया है। जेडीए व नगर निगम द्वारा सर्वे कर चिह्नित की गयी भूमि के आसपास मकानों का निर्माण होने लगा है, इससे लगने लगा है कि लिंक रोड के माध्यम से मिलने वाली सुविधा से लोग वंचित रह जायेंगे।

ललितपुर रोड से सारन्ध्रा नगर, पुलिया नम्बर 9 होकर लोको शेड तक सड़क का निर्माण होना था। इस लिंक रोड से सैकड़ों लोगों को लाभ मिलता। 5 किलोमीटर दूरी कम होती और जैम का सामना भी नहीं करना पड़ता। अभी ललितपुर की ओर से झाँसी रेलवे स्टेशन आने वाले वाहनों को हँसारी, जेल चौराहा, इलाइट चौराहा, अशोक तिराहा होकर आना पड़ता है। इसके साथ ही हँसारी, ग्वाल टोली, श्रीनगर, राजगढ़, सारन्ध्रा नगर, हँसारी की टपरियन, कछियाना, ईश्वरी नगर आदि क्षेत्रों को लोगों को लम्बा सफर तय करके रेलवे स्टेशन पहुँचना पड़ता है। उनकी इस समस्या को देखते हुये झाँसी विकास प्राधिकरण, नगर निगम ने सारन्ध्रा नगर से हँसारी की टपरियन, ईश्वरी नगर के बाहरी बाहरी क्षेत्र से पुराना कछियाना, रेलगंज, इलाहाबादी मोहल्ला के बगल से लोको शेड तक लिंक रोड बनाने के लिए सर्वे किया था। यह हँसारी की टपरियन क्षेत्र में आर्मी की ़जमीन और रेलगंज, इलाहाबादी मोहल्ला में रेलवे की ़जमीन के बगल से निकलता। अधिकारियों ने सर्वे के दौरान रेलवे व आर्मी के अधिकारियों से भी परामर्श किया था। इसमें कहा गया कि नगर निगम अपनी ़जमीन पर निर्माण कार्य करा सकता है। लोको गेट के पास नगर निगम की ़जमीन नहीं थी, वहाँ पुलिया नम्बर 9 से रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाले मार्ग का चौड़ीकरण किया जाता। नगर निगम एवं जेडीए के इस प्लैन को देखते हुये लोगों ने सारन्ध्रा नगर आवासीय कॉलनि में बड़ी संख्या में प्लॉट लिए थे, जब उन्हें इस योजना पर कार्य होता दिखायी नहीं दिया और सड़क निर्माण वाली प्रस्तावित ़जमीन के आसपास निर्माण कार्य देखा तो काफी लोगों ने सारन्ध्रा नगर के प्लॉट को री-सेल करना शुरू कर दिया। पुलिया नम्बर 9, हँसारी, राजगढ़ को मिलाकर यहाँ महानगर के 5 बड़े वॉर्ड पड़ते हैं। ललितपुर की ओर से आने वाले सैकड़ों वाहनों का प्रतिदिन आवागमन होता है। अगर इस प्रस्तावित मार्ग का निर्माण करा दिया जाये तो इस क्षेत्र का काफी विकास हो सकता है। यह क्षेत्र दो ओर से रेलवे और एक ओर आर्मी क्षेत्र को जोड़ता है। ऐसे में लोगों को रेलवे क्रॉसिंग होकर रेलवे स्टेशन की ओर आना होता है।

फाइल : दिनेश परिहार

समय : 8:20

1 अगस्त 2021

Edited By: Jagran