जागरण संवाददाता, मुंगराबादशाहपुर (जौनपुर): थाने के सामने बुधवार को दोपहर जाम में फंसे दो पक्षों में मामूली विवाद के दौरान सिपाहियों ने एक ही पक्ष के तीन लोगों को थाने में लाकर पीट दिया। इसकी जानकारी जब राज्यसभा सदस्य सीमा द्विवेदी को हुई तो वह समर्थकों संग थाने पहुंच गईं। इस दौरान समर्थकों ने कोतवाली का घेराव किया। इसके बाद आरोपित सिपाहियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लाइन हाजिर कर दिया गया।

नारायणडीह गांव निवासी विनोद कुमार सिंह अपनी कार से परिवार के ही अमित सिंह, ऋशु सिंह के साथ बाजार गए थे। इसी बीच थाने के सामने ही उनकी कार जाम में फंस गई। पीछे से आ रहे बाइक सवार ने उन्हें कार आगे बढ़ाने को कहा। इसे लेकर दोनों में नोक-झोंक होने लगी। विवाद होते देख थाने में तैनात दो सिपाही मौके पर पहुंच गए और कार सवार तीनों लोगों को थाने ले आए। आरोप है कि सिपाहियों ने तीनों की बेल्ट व डंडे से पिटाई की। जमीन पर गिरने के बाद जूतों से ठोकर मारी। सिपाहियों की बर्बरता सुनकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। किसी ने घटना की जानकारी राज्यसभा सदस्य सीमा द्विवेदी को दी तो वह समर्थकों संग थाने पर पहुंच गईं। वहां सिपाहियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गई। सूचना मिलने पर एएसपी ग्रामीण त्रिभुवन सिंह भी पहुंचे। मातहतों से घटना की जानकारी ली। राज्यसभा सदस्य से सिपाहियों ने किए गए दु‌र्व्यवहार पर अफसोस जताया, लेकिन बात नहीं बनी। वे सिपाहियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग पर अड़ी रहीं। इसके बाद एएसपी ने दोनों सिपाहियों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए लाइन हाजिर कर दिया।

Edited By: Jagran