जासं, मल्हनी (जौनपुर) : वीर बहादुर सिंह पूर्वाचल विश्वविद्यालय परीक्षा समिति की शुक्रवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि स्नातक उत्तीर्ण छात्र कला संकाय में स्नातकोत्तर किसी भी विषय से कर सकते हैं। दीक्षांत समारोह में उपाधि पाने वाले व गोल्ड मेडलिस्ट छात्रों की सूची का अनुमोदन किया गया।

कमेटी ने सात साल के अंतराल पर भी रेगुलर प्रवेश लेने पर अपनी संस्तुति कर दी है। अब दो वर्ष की जगह सात वर्ष अंतराल पर भी छात्र इंटर के बाद यूजी पीजी की पढ़ाई कर सकेंगे। अब किसी भी पाठ्यक्रम से स्नातक करने वाला छात्र पीजी कला संकाय में अपने मनमाफिक विषय में प्रवेश ले सकता है। परीक्षा समिति ने इस पर अपनी संस्तुति दे दी। लेकिन अभी यह मामला प्रवेश समिति में भी जाएगा। दीक्षांत समारोह में पीएचडी के 121 शोधार्थियों को उपाधि दिए जाने पर अनुमोदन समिति ने कर दिया है। यूजी- पीजी में प्रथम प्रयास में 66 मेडलिस्टों की सूची पर भी अनुमोदन किया गया। इस मौके पर कुलसचिव सुजीत कुमार जायसवाल, परीक्षा नियंत्रक बीएन सिंह, डा. मनोज मिश्रा, डा. विजय सिंह, डा. वशिष्ठ, डा. सलमान अंसारी आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस