जागरण संवाददाता, जौनपुर: बक्शा थाना पुलिस व एसओजी ने सोमवार की रात मुठभेड़ के दौरान 25 हजार रुपये के इनामी समेत तीन शातिर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, दो भाग निकले। इनके पास से असलहे, नकदी, दो बाइकें बरामद हुई। पुलिस का दावा है कि अपराधी डकैती, लूट व हत्या की साजिश रच रहे थे।

अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) त्रिभुवन सिंह ने पुलिस लाइन में मंगलवार को प्रेसवार्ता में बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि महिमापुर गांव में मुंशी लाल मौर्या के घर के पीछे कुछ बदमाश भारी मात्रा में असलहों से लैस होकर डकैती की साजिश रच रहे हैं। इसके बाद पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर बदमाशों को घेर लिया। इस दौरान अपराधी पुलिस टीम पर फायरिग करने भागने लगे। पुलिसकर्मियों ने आत्मरक्षार्थ कार्रवाई करते हुए तीन अपराधियों लालचंद्र निवासी पूराबलई थाना बदलापुर, सौरभ गुप्ता निवासी सेहमलपुर, थाना जलालपुर व नीलेश कुमार निवासी पीठापुर थाना आसपुर देवसरा, जिला प्रतापगढ़ को गिरफ्तार कर लिया। दो बदमाश अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गए। इनके पास से दो तमंचे, कई कारतूस, दो बाइक और लूट के पांच हजार रुपये बरामद हुए। पुलिस ने दावा किया कि बदमाश बदलापुर थाना क्षेत्र के घनश्यामपुर बाजार स्थित एक ज्वेलरी की दुकान को लूटने, वाराणसी जिले के फूलपुर बाजार में एक सराफा प्रतिष्ठान और बक्शा थाना क्षेत्र के कुल्हनामऊ की शराब की दुकान पर लूट की साजिश रच रहे थे। इसके अलावा नोएडा डोयडा (गौतमबुद्ध नगर) में रह रहे इन बदमाशों के एक दोस्त की बेवफा प्रेमिका की हत्या की भी साजिश रच रहे थे।

गिरफ्तार बदमाशों में शामिल लालचंद्र पर एसपी ने 25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। लालचंद्र व सौरभ गुप्ता पर विभिन्न थानों में नौ जबकि नीलेश पर दो मुकदमे दर्ज हैं। फरार अपराधियों की तलाश की जा रही है। गिरफ्तारी करने वाली टीम में एसओजी प्रभारी पर्व कुमार सिंह, बक्शा थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह, सर्विलांस प्रभारी एसआई राम जनम यादव, हेड कांस्टेबल सुशील सिंह, जयशील तिवारी, कांस्टेबल श्वेत प्रकाश आदि थे।

Edited By: Jagran