जौनपुर, जागरण संवाददाता। कोइरीपुर (बघरवारा) गांव में गुरुवार सुबह तालाब किनारे एक 26 वर्षीय अज्ञात युवक का शव पाया गया। शौच के लिए उस तरफ गए किसी ग्रामीण ने देखा तो गांव में शोर मचाया और पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।

बघरवारा निवासी मेराज अहमद पुत्र स्व. इकबाल का शव उसी गांव के कोइरीपुर मजरे में घर से कुछ दूर स्थित स्थित एक तालाब के किनारे पाया गया। जिस स्थान पर शव पाया गया उसके ऊपर से बिजली का हाईटेंशन तार गुजरा हुआ है जो काफी नीचे तक लटका हुआ है। इसके अलावा शव का चेहरा झुलसा हुआ है। जिसके आधार पर पुलिस का मानना है कि संभवत: रात में शौच आदि के लिए गए मेराज की उसी तार के चपेट में आने से मौत हुई है।

किंतु स्वजनों द्वारा हत्या की आशंका जताए जाने पर पुलिस द्वारा डॉग स्क्वायड की टीम को भी मौके पर बुलाया गया किंतु उससे भी कुछ खास हासिल नहीं हुआ। घटना को लेकर कुछ लोग दबी जुबान अन्‍य मामलों की चर्चा कर रहे हैं। मृतक तीन भाइयों में सबसे छोटा था। दोनों बड़े भाइयों में एक सऊदी में तो दूसरा मुंबई में रहकर रोजी रोटी कमाते हैं। जबकि उसके पिता की अरसे पहले मौत हो चुकी है। मृतक की मां फहमीदा सहित अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

"पहली नजर में घटना का कारण करेंट ही समझ में आ रहा है। इसके अलावा मृतक के बाल भी तार में उलझे हुए थे। फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट से सब कुछ साफ हो जाएगा।" -संजय सिंह, थानाध्यक्ष सरपतहां।

"मौत करेंट से नहीं हुई है। क्रासफार्म खराब हो जाने से कल तार थोड़ा नीचे जरूर आ गया था किंतु मृतक का शव तार से बीस मीटर दूर पानी मे पाया गया है। करेंट से यदि मौत हुई होती तो पूरा शरीर झुलस जाता न कि सिर्फ चेहरा।" - भानु प्रताप सिंह, अवर-अभियंता बिजली, शाहगंज।

Edited By: Abhishek sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट