जागरण संवाददाता, मड़ियाहूं (जौनपुर) : पुलिस की सोमवार आधी रात सरौना गांव में वसुही नदी पुल के पास अंतर जनपदीय ट्रक लुटेरों के गिरोह से मुठभेड़ हो गई। गोली लगने से घायल मोहम्मद गुफरान समेत छह बदमाशों को पुलिस ने धर दबोचा। वहीं दो भाग गए। गिरफ्तार आरोपितों में पांच प्रतापगढ़ जबकि एक प्रयागराज का है। इनके पास से पुलिस को तीन तमंचे, कारतूस व कार बरामद हुई है।

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अशेष नाथ सिंह को मुखबिर ने सूचना दी कि 10 जनवरी की रात कस्बा में बाईपास पर ट्रक लूटने वाले बदमाशों का गिरोह किसी घटना को अंजाम देने चार पहिया वाहन से वसुही नदी पुल की तरफ आ रहा है। उन्होंने फोर्स के साथ पहुंचकर घेराबंदी कर ली। कुछ ही देर बाद जौनपुर की ओर से सफेद रंग की आई सेंट्रो कार सवारों ने ट्रक को ओवरटेक कर रोक लिया। कार से उतरे असलहाधारी ट्रक चालक से गेट खुलवाने लगे। उसी समय पुलिस ने बदमाशों को घेर लिया। पुलिस पर गोलियां चलाते हुए बदमाश सरसों के खेत में भागे। गोली बुलेट प्रूफ जैकेट पर लगने से अशेष नाथ सिंह बाल-बाल बच गए।

पुलिस ने जवाबी फायरिग की। पैर में गोली लगने से एक बदमाश घायल होकर गिर पड़ा। उसके सहित पुलिस ने छह बदमाशों को पकड़ लिया, जबकि दो भागने में सफल हो गए। मौके से सेंट्रो कार के अलावा तीन तमंचे, छह कारतूस, खोखे व 10 जनवरी को ट्रक चालक से लूटा गया मोबाइल फोन मिला। घायल बदमाश मोहम्मद गुफरान को पुलिस सीएचसी लाई।

प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल फिर वहां से बीएचयू ले गई। आपरेशन कर गोली निकाले जाने के बाद पुलिस ने लाकर अदालत में पेश किया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि गुफरान को रिमांड पर लेने का प्रयास किया जा रहा है। बदमाश सैंट्रो कार के कागजात नहीं दिखा सके। पूछताछ में उन्होंने अपने फरार साथियों के नाम आजाद निवासी कुलहीपुर थाना मांधाता जिला प्रतापगढ़ व दिलशाद निवासी मरखा मई नई बाजार थाना मऊ आइमा जिला प्रयागराज बताया। यह हैं पुलिस के हत्थे चढ़े बदमाश

गुफरान निवासी कसेरूआ, दीपक सिंह निवासी मेहदौरी थाना रानीगंज, मेराज अली निवासी गोविद सराय, मोहम्मद वसीक निवासी कुसफरा, मसीद निवासी कुलहीपुर थाना मांधाता जिला प्रतापगढ़ और सलमान निवासी मरखा मई नई बाजार थाना मऊ आइमा जिला प्रयागराज। गिरफ्तारी करने वाली टीम

एसएसआइ घनश्याम शुक्ला, एसआइ कश्यप सिंह, सुनील कुमार, हेड कांस्टेबल सुधीर दुबे, शिव पूजन, इमरोज खां, अकील अहमद, कृष्ण मुरारी यादव, प्रिस कुमार उपाध्याय, प्रवीण कुमार, जितेंद्र देव पांडेय, सुख नंदन यादव, भान प्रताप यादव, प्रदीप कुमार यादव, विशाल यादव।

------------------------- आरोपितों का लंबा आपराधिक इतिहास है। इनके विरुद्ध आधा दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। लूटा गया ट्रक दोनों फरार बदमाशों के कब्जे में है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें दबिश दे रही हैं। जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर ट्रक बरामद कर लिया जाएगा।

- शैलेंद्र सिह, एएसपी (ग्रामीण)

Edited By: Jagran