जागरण संवाददाता, गौराबादशाहपुर (जौनपुर): खाते पर फर्जी लोन पास कर लाखों रुपये हड़पने के मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई न होने और लोन की रिकवरी के लिए नोटिस जारी किए जाने से आक्रोशित खाताधारकों ने सोमवार को कस्बा स्थित एचडीएफसी बैंक पर प्रदर्शन किया। इसके चलते घंटों तक बैंक का ताला नहीं खुलने से कामकाज प्रभावित हुआ।

बैंक खुलने के समय से पहले ही जुटे खाताधारकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए बैंक कर्मियों को ताला नहीं खोलने दिया। खाताधारकों का आरोप है कि ब्रांच मैनेजर फिरोज रिजवी द्वारा उनसे सादा चेक ले लिया गया था और लोन पास कर पैसे गबन कर लिए गए। खाते से पैसे कटने शुरू होने पर उन्हें इस धांधली का पता चला। तूल पकड़ने पर मामले की जांच बैंक के कलस्टर हेड निशान चंद्रा को सौंपी गई। उन्होंने खाताधारकों को आश्वासन दिया कि मामले की जांच होने तक कोई नोटिस जारी नहीं की जाएगी। ग्राहकों का आरोप है कि बिना ऋण लिए उन्हें रिकवरी की नोटिस जारी की जा रही है।

बैंक के खाताधारकों सीमा सोनकर, राजेश जायसवाल, अमित गुप्ता, निसार अहमद, कुबेर मोदनवाल, रामफेर गुप्ता, मोबिन अहमद का आरोप है कि कुछ दिनों पहले शाखा प्रबंधक फिरोज रिजवी ने गड़बड़ी ठीक करने के नाम पर ब्लैंक चेक साइन करवाकर ले लिया था। कुछ दिनों बाद किसी के खाते से महीने में पांच तो किसी के खाते से छह हजार रुपये कटने लगे। परेशान खाताधारकों ने शाखा प्रबंधक से शिकायत की तो सर्वर की गड़बड़ी बताते हुए फर्जी स्टेटमेंट थमा दिया गया। दोबारा पैसे कटने पर मेन ब्रांच जौनपुर में शिकायत की। इस पर वाराणसी से आए बैंक के अधिकारी अनुराग कुमार ने लोगों को बताया कि इस प्रकरण में तेजी से कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही लोगों के पैसे रिकवर किए जाएंगे। तब तक आप लोग बैंक का कामकाज चलने दीजिए। यह तो हुआ नहीं उल्टे बैंक लोन भरने के लिए नोटिस जारी कर रहा है। खबर लगने पर पहुंचे थानाध्यक्ष उदय प्रताप ¨सह ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। बैंक के कलस्टर हेड निशान चंद्रा से बात कर बुधवार को थाना परिसर में दोनों पक्षों को वार्ता करने के लिए थाने पर आने को कहा तब जाकर लोगों का गुस्सा शांत हुआ। प्रदर्शन करने वालों में नवीन साहू, सुहेल अहमद, कुलदीप प्रजापति, लोकप्रिय जायसवाल, राजू, मो. अली, जुनैर अहमद, अब्दुल हलीम आदि रहे।

Posted By: Jagran