जागरण संवाददाता, जौनपुर: राजपूत समाज को दहेज प्रथा रोकने का कार्य करना चाहिए। यह जाति सभी वर्गों के लोगों को साथ लेकर चलने की क्षमता रखती है। उक्त विचार अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व सांसद हरिवंश सिंह ने नगर स्थित एक होटल में राजपूत एकता परिषद के होली मिलन समारोह में व्यक्त किया। कहा कि राजपूत समाज में प्रतिभाओं की कमी नहीं है बस उसे सही दिशा निर्देशन की आवश्यकता है।

उन्होंने ढोलक की थाप पर गीतों की प्रस्तुति कर कार्यक्रम को रंगारंग बना दिया। समाजवादी चितक वशिष्ठ नारायण सिंह ने स्वाभिमान की रक्षा को सबसे जरूरी बताया। जफराबाद विधायक डा हरेंद्र प्रसाद सिंह ने एकता समिति की ओर से पत्रिका के प्रकाशन की आवश्यकता जताई। पूर्व विधायक सुरेंद्र प्रताप सिंह व एमएलसी बृजेश सिंह प्रिसू ने कहा कि होली समाज की विभाजक रेखा को तोड़ने वाला त्योहार है। आल्हा सम्राट फौजदार सिंह ने अपने गीतों से माहौल होलियाना कर दिया। ओम प्रकाश सिंह ने स्वागत किया। इस अवसर पर तिलकधारी महाविद्यालय के प्रबंधक अशोक कुमार सिंह, पूर्व प्राचार्य अरुण कुमार सिंह, डा राजीव प्रकाश सिंह, पूर्व प्रमुख सुरेंद्र प्रताप सिंह, शशिमोहन सिंह क्षेम, वीरेंद्र सिंह, सर्वेश सिंह, डाक्टर अशोक कुमार सिंह, प्रदीप सिंह, अरविद कुमार सिंह, रवींद्र सिंह, अशोक रघुवंशी आदि उपस्थित रहे। संचालन डा अजय सिंह तथा आभार ज्ञापन डा दिनेश सिंह बब्बू ने किया।

Edited By: Jagran