जागरण संवाददाता, जौनपुर/वाराणसी : स्पेशल टास्क फोर्स की वाराणसी इकाई की टीम ने सोमवार को जौनपुर के शाहगंज इलाके में एक गोदाम से 60,971 शीशी फेंसाडिल सिरप बरामद की। वहीं, अंतरप्रांतीय गिरोह के छह तस्करों को गिरफ्तार किया गया। बरामद सिरप की कीमत करीब एक करोड़ 34 लाख रुपये बताई गई। सिरप को नशे के लिए पूर्वोत्तर राज्यों में भेजे जाने की साजिश थी। गिरफ्तार आरोपितों में दो हरियाणा के निवासी हैं।

एसटीएफ टीम को पता चला कि जौनपुर के शाहगंज में किसी स्थान पर गोदाम बनाकर फेंसाडिल सिरप को अवैध रूप से लाकर रखा जाता है और उसे पूर्वोत्तर राज्यों व अन्य जगहों पर भेजा जाता है। इस पर निरीक्षक अनिल सिंह के नेतृत्व में टीम ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो से संपर्क कर मुखबिरों का जाल बिछाया। जानकारी पुख्ता होने के बाद टीम ने शाहगंज में मोहल्ला गोशाला फैजाबाद रोड स्थित कुंज बिहारी यादव के मकान में बने गोदाम में छापेमारी की। उस समय सिरप को दो ट्रकों पर लोड किया जा रहा था। इससे संबंधित कोई कागजात आरोपितों के पास नहीं थे। एसटीएफ ने दो ट्रकों सहित सिरप व चार मोबाइल फोन बरामद करने के साथ छह आरोपितों को दबोच लिया। आरोपितों में शाहगंज के भादी निवासी चंदन कुमार गुप्ता, गौराबादशाहपुर थानांतर्गत महरूपुर निवासी जितेंद्र प्रजापति, गौराबादशाहपुर के तरसंड निवासी बृजेश सिंह, सरायख्वाजा थानांतर्गत लोहता निवासी जय सिंह, हरियाणा के नुहू थानांतर्गत सालाहेडी निवासी जाहिद व हरियाणा के रोजका थानांतर्गत बड़कालीमुद्दीन निवासी आमीन खान शामिल हैं। नशीले पदार्थ के रूप में करते हैं प्रयोग

आरोपितों ने पूछताछ में एसटीएफ को बताया कि फेंसाडिल को कफ सिरप के रूप में उपयोग किया जाता है। इसमें कोडिन नामक केमिकल पाया जाता है, जिसे एक साथ अधिक मात्रा में लेने पर नशा होता है। बिहार, पश्चिम बंगाल व पूर्वाेत्तर राज्यों में लोग इसका प्रयोग नशीले पदार्थ के रूप में करते हैं और यह सिरप वहां पर ऊंचे दामों पर बिकता है। सिरप को तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना अवनीश सिंह उर्फ छोटू, मतलूब एवं संतोष तिवारी पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों से तस्करी के माध्यम से मंगाकर कुंज बिहारी यादव के मकान में रखा जाता है। गिरफ्तार चंदन कुमार गुप्ता स्थानीय स्तर पर सारी व्यवस्था देखता है। फेंसाडिल सिरप को चावल की बोरियों के बीच छिपाकर मालदा, पश्चिम बंगाल भेजा जा रहा था। वहां पहुंचने के बाद गिरोह के अवनीश सिंह उर्फ छोटू, मतलूब एवं संतोष तिवारी बताते कि यह सिरप किसको देना है।

गिरफ्तार आरोपितों को शाहगंज थाने में दाखिल करके एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया गया है। अग्रिम विधिक कार्यवाही एनसीबी द्वारा की जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप