जागरण संवाददाता, जौनपुर: हमें गर्व है कि हम विश्वकर्मा हैं और निर्माण के कार्यों से हमारा सरोकार रहा है। समाज के सम्मान और स्वाभिमान से कोई समझौता नहीं होगा। भगवान विश्वकर्मा शिल्प और निर्माण के देवता हैं और पूरा देश 17 सितंबर को उनकी पूजा करता है। प्रदेश की भाजपा सरकार ने भगवान विश्वकर्मा के पूजा दिवस का सार्वजनिक अवकाश निरस्त कर उनका अपमान किया। उक्त बातें अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मंत्री राम आसरे विश्वकर्मा ने नगर में रविवार को भगवान विश्वकर्मा के पूजा एवं सम्मेलन में कही।

उन्होंने कहा कि 2003 में मुलायम ¨सह यादव की सरकार ने तथा 2012 में अखिलेश यादव की सरकार ने विश्वकर्मा पूजा दिवस पर सार्वजनिक अवकाश घोषित करके विश्वकर्मा समाज की पहचान बनाई थी। अब भाजपा सरकार उसे मिटा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस