जागरण संवाददाता, जौनपुर: स्वामी विवेकानंद की जयंति पर शहर के तमाम स्थानों पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने कार्यक्रम का आयोजन कर स्वामी जी के आदर्शो पर चलने का संकल्प लिया। जिला संयोजक सचिन तिवारी व सहसंयोजक ऋषिकेश श्रीवास्तव ने विवेकानंद की जीवनी पर प्रकाश डाला।

तिलकधारी ¨सह इंटर कॉलेज में विवेकानंद जयंति पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। प्रधानाचार्य डा. विरेंद्र प्रताप ¨सह ने कहा कि विवेकानंद के जीवनी से युवाओं को प्रेरणा लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वेदों के ज्ञाता और महान दार्शनिक स्वामी विवेकानंद ने न सिर्फ भारत के उत्थान के लिए काम किया बल्कि लोगों को जीवन जीने की कला भी सिखाई। वीके ¨सह, डा. नम्रता ¨सह, रमेश चंद्र ¨सह ने भी विवेकानंद के जीवनी पर प्रकाश डाला। नरेंद्र कुमार ¨सह, जय ¨सह, प्रकाश ¨सह समेत तमाम लोग शामिल रहे। जेसीआई जौनपुर की ओर से ऋषिकुल एकेडमी धरनीधरपुर में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। अध्यक्षता करते हुए संतोष अग्रहरी ने राष्ट्र निर्माण पर युवाओं की भूमिका पर प्रकाश डाला। राधेरमण जायसवाल, नीरज श्रीवास्तव, अतुग गुप्ता समेत तमाम लोग शामिल हुए। जेसीआई जौनपुर क्लासिक ने भी विवेकानंद जयंति को युवा दिवस के रूप में मनाया। इस दौरान रोल ऑफ यूथ इन नेशन बि¨ल्डग विषय पर आयोजित संगोष्ठी में विवेकानंद के जीवन पर विस्तार से चर्चा की गई। संगठन के अध्यक्ष मधुसूदन बैंकर ने कहा कि युवाओं को अपना जोश राष्ट्र के निर्माण पर लगाना चाहिए। विशाल गुप्ता, गणेश साहू, प्रदीप सेठ शामिल रहे। खुटहन में पंडित दीन दयाल उपाध्याय बालिका इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानाचार्य प्रिया पांडेय ने विवेकानंद की जीवनी पर प्रकाश डाला। भारत विकास परिषद की ओर से भी युग पुरुष स्वामी विवेकानंद की जयंति धूम-धाम से मनाई। परिषद के अध्यक्ष भृगुनाथ पाठक ने कहा कि परोपकार, भाई-चारा, प्रेम, आत्मसम्मान, शिक्षा और महिला मुक्ति के लिए उनके विचार आज भी प्रासंगिक हैं और आने वाले समय में भी लोगों रास्ता दिखाते रहेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप