जागरण संवाददाता, बदलापुर (जौनपुर): नौ माह से सऊदी अरब के रियाद शहर की जेल में बंद सरपतहां थाना क्षेत्र के गंगौली गांव निवासी मिथिलेश यादव की रिहाई के लिए बदलापुर के विधायक रमेश चंद्र मिश्र भी आगे आ गए हैं। उन्होंने कहा है कि वे मिथिलेश को जेल से मुक्त कराने के लिए विदेश मंत्री जयशंकर व सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से व्यक्तिगत तौर पर मिलकर मदद की गुहार लगाएंगे। विधायक ने कहा कि उन्हें शुक्रवार व शनिवार के अंक में जागरण में छपी खबर से पता चला है कि उनके गृह क्षेत्र का युवक नौ महीने से सऊदी अरब की जेल में बंद है। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही मिथिलेश यादव के परिजनों से मिलकर घटना के बारे में पूरी जानकारी हासिल करेंगे।

गंगौली निवासी मिथिलेश यादव वर्ष 2011 से सऊदी अरब के रियाद शहर में एक शेख के यहां बतौर ड्राइवर नौकरी करता था। गत 20 फरवरी 2019 को वह अपने मालिक के साथ कार से कहीं जा रहा था। रास्ते में उसकी कार गलती से रेड सिग्नल पार कर गई और दूसरी कार से टकराते हुए डिवाइडर से भिड़ गई। इस हादसे में जार्डन की एक महिला घायल हो गई। जिसकी कुछ दिन बाद अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने मिथिलेश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बताया गया कि जिस कार को वह चला रहा था उसका न तो बीमा था और न ही कोई कागजात। आरोप है कि कार मालिक ने खुद को फंसता देख जल्द ही उसे जेल से छुड़ाने का आश्वासन देकर धोखे से अरबी भाषा में लिखे मनमुताबिक कागजात पर दस्तखत करा लिया। इससे सऊदी कोर्ट में दुर्घटना की पूरी जिम्मेदारी मिथिलेश पर आ गई। कोर्ट ने उस पर डेढ़ लाख रियाल (करीब तीस लाख भारतीय मुद्रा) का जुर्माना लगाकर जेल भेज दिया। तभी से उसके परिवार पर मानो विपत्ति सी आ गई है। परिवार इस कदर आर्थिक तंगी का सामना कर रहा है कि मिथिलेश की तीन बेटियों की पढ़ाई के फीस तक के लाले पड़ गए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप