जागरण संवाददाता, जौनपुर: लंबे समय बाद गड्ढों में तब्दील हुईं सड़कों को दुरुस्त करने का फैसला लिया गया है। पीडब्ल्यूडी के तीनों खंडों की 1450 किलोमीटर की सड़कों को चमकाने के लिए 90 करोड़ रुपये का प्रस्ताव तैयार किया गया है। कार्य निर्माण प्रांतीय खंड, निर्माण खंड व निर्माण खंड-दो में कराया जाएगा। बरसात के पहले सड़कों को दुरुस्त कर लिए जाने की तैयारी की गई है।

गतवर्ष अधिक ठंड की वजह से सड़कों का निर्माण प्रभावित हुआ था। साथ ही बजट भी देरी से मिलने की वजह कार्य पूरे नहीं हो सके थे। मौजूदा समय में अधिकतर सड़कें खस्ताहाल हो चुकी हैं। जगह-जगह बने गड्ढों से सफर जानलेवा बन गया है। ऐसे में नए सिरे से सड़कों को दुरुस्त करने का फैसला लिया गया है। नगर के अलावा ग्रामीण इलाकों की सड़कें भी बदतर स्थिति में हैं। सबसे खराब स्थिति निर्माण खंड-दो के तहत आने वाली सड़कों की है। अधिकारियों की उदासीनता से गुणवत्ता पर पड़ रहा है।

.......

तीनों खंडों में होगा काम

सड़कों की मरम्मत तीनों खंडों में कराई जाएगी। प्रांतीय खंड में 483 किलोमीटर सड़क, निर्माण खंड में 450 किलोमीटर सड़क व निर्माण खंड-दो में 495 किलोमीटर सड़क दुरुस्त करने की तैयारी की गई है।

................

पीडब्ल्यूडी की सड़कों की संख्या

कुल सड़कें: 3970

लंबाई: 6245

राजमार्ग: 263 किमी

प्रमुख जिला मार्ग: 93.65 किमी

ग्रामीण मार्ग: 4895 किमी

अन्य विकास मार्ग: 992.65 किमी

....

बोले अधिकारी..

सड़कों को गड्ढ़ामुक्त करने के लिए 90 करोड़ रुपये का प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजा गया है। बरसात के पूर्व अधिक से अधिक सड़कों को दुरुस्त करने की कोशिश की जा रही है। बजट मिलते ही निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा।

-राधाकृष्ण, अधिशासी अभियंता, पीडब्ल्यूडी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस