जागरण संवाददाता, जौनपुर : कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर 21 दिनों के लॉकडाउन को देखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से जनपदवासियों को राहत पहुंचाने की पहल शुरू हो गयी है। शासन के निर्देश के क्रम में अब वाहन से लोगों को राशन व सब्जी की आपूर्ति घरों तक करायी जा रही है। इसको लेकर बुधवार को कोतवाली के पास डीएम दिनेश कुमार सिंह ने पांच पिकअप को हरी झंडी दिखायी। इसके साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों ने व्यापारी नेता दिनेश टंडन व सब्जी मंडी व्यापारी शिवम श्रीवास्तव के साथ बैठक करके कालाबाजारी को रोकने पर चर्चा की।

लॉकडाउन में दुकानों के कुछ ही समय के लिए खुलने के चलते लोगों की भीड़ जुट जा रही है। इसके साथ ही बाजारों में न निकलने के चलते लोगों को जरूरी सामान की समस्या न हो इसको देखते हुए घरों तक सब्जियों को पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन व वेब मंडी का सहयोग लिया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी परिवार में राशन व सब्जी की कोई परेशानी नहीं होगी, इसके लिए मोहल्लों में घरों तक सामान पहुंचाये जायेंगे। अभी पांच पिकअप को रवाना किया गया है आगे इनकी संख्या और बढ़ायी जायेगी। बताया कि शासन से कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा के निर्देश के क्रम में स्थानीय मंडियों में खाद्य सामग्रियों की बल्क (थोक) सप्लाई की चेन को न रोका जाय एवं जिला प्रशासन व मंडी समितियों द्वारा बल्क मूवमेंट को सुगम बनाया जाय। इसके लिए आवश्यक लॉकडाउन क्षेत्र में इन वाहनों के आने-जाने के लिए उपयुक्त व्यवस्था की जाय। खाद्य सामग्री के विक्रेता, किसान आदि को डोर स्टेप पर खाद्य सामग्री की आपूर्ति एवं विपणन के लिए प्रेरित किया जाय। नगरीय क्षेत्र में आवश्यक खाद्य सामग्री के निजी व सहकारी क्षेत्रों में जितने भी बल्क एवं रिटेल के विपणन स्टोर्स, किराना स्टोर है, जिला प्रशासन द्वारा इनके माध्यम से नगर के प्रत्येक मोहल्ले, वार्ड में डोर स्टेप आपूर्ति एवं विपणन कराने के लिए प्रेरित किया जाय। इसके लिए ई-रिक्शा, ठेला, आटो, पिकअप, ठेलिया आदि का डोर स्टेप सप्लाई चेन में उपयोग किया जाय।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस