जागरण संवाददाता, जफराबाद (जौनपुर): बहुप्रतीक्षित जफराबाद-इलाहाबाद रेलखंड पर शुक्रवार को इलेक्ट्रिक ट्रेनों का संचालन शुरू हो गया। रेल संरक्षा आयुक्त व डीआरएम ने इसका भव्य शुभारंभ किया। सैलून से शाम करीब सवा चार बजे पहुंचे रेल सुरक्षा आयुक्त शैलेश पाठक, मंडल रेल प्रबंधक लखनऊ संजय त्रिपाठी तथा इंजीनियरिग विभाग, परिचालन विभाग सहित अन्य विभाग के उच्चाधिकारी जफराबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। जंघई रेल प्रखंड पर बने विद्युत सबस्टेशन का निरीक्षण के बाद हवन-पूजन के साथ उद्घाटन किया। कार्यक्रम के बाद अधिकारी स्पेशल ट्रेन से जंघई की तरफ नवीन विद्युतीकरण का निरीक्षण करने के लिए रवाना हो गए। मौके पर मौजूद अधिकारियों ने बताया कि नवीन विद्युतीकरण का निरीक्षण करते हुए जंघई स्टेशन तक स्पेशल ट्रेन जाएगी। उसके बाद जंघई से वापस जफराबाद तक रेलवे ट्रैक पर तेजगति से ट्रेन चलाकर परीक्षण किया जाएगा। जफराबाद से इलाहाबाद रेलखंड पर अभी तक डीजल इंजन के माध्यम से ट्रेनें संचालित की जाती थीं। इलेक्ट्रिक इंजन के माध्यम से ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने के साथ ही संचालन में सुविधा मिलेगा। जनता करती रही इंतजार, सैलून से नहीं उतरे अधिकारी

मड़ियाहूं (जौनपुर): स्थानीय स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे सीआरएस शैलेश कुमार पाठक व डीआरएम संजय त्रिपाठी सैलून से नहीं उतरे। अधिकारियों के आने की जानकारी होने पर बड़ी संख्या में क्षेत्र के लोग कड़ाके की ठंड में कई घंटे से उनका इंतजार कर रहे थे। अधिकारियों का सैलून देरशाम लगभग छह बजे मड़ियाहूं रेलवे स्टेशन पर पहुंचा। यहां पहले से ही जनता स्टेशन की समस्याओं से रूबरू कराने के लिए सीआरएस व डीआरएम का इंतजार कर रही थी, लेकिन दोनों अधिकारी नीचे उतरे ही नहीं। अधीनस्थ अधिकारियों ने निरीक्षण की खानापूर्ति किया। अधिकारियों के रवैये से क्षेत्र जनता में आक्रोश है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप