जागरण संवाददाता, खुटहन (जौनपुर): नुरूद्दीनपुर गांव निवासी छह दिन पूर्व लापता बालक का शव मंगलवार को उसी के घर में खपरैल के खंडहर में मिलने से कोहराम मच गया। शव को देखने से साफ जाहिर हो रहा है कि उसकी पीट-पीटकर हत्या की गई। पुलिस छानबीन में जुटी है। स्वजनों द्वारा किसी को आरोपित न किए जाने से पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पा रही है। सुराग की तलाश में खोजी कुत्ते की भी मदद ली।

उक्त गांव के सूबेदार यादव का पुत्र प्रियांशू उर्फ लाला (14) गत 12 फरवरी को दोपहर घर से लापता हो गया। स्वजनों ने सोचा बच्चों के साथ कहीं खेलने गया होगा। देर शाम तक वापस न आने पर खोजबीन शुरू की लेकिन पता नहीं चला। खोजते-खोजते थक जाने के बाद स्वजनों ने 15 फरवरी को थाने में सूचना दी। पुलिस गुमशुदगी का मामला दर्ज करने के बाद हाथ पर हाथ धरकर बैठ गई। मंगलवार को तीसरे पहर उसकी माता रंगीला देवी घर से सटे हुए खंडहर में रखा ईंधन निकालने गई तो लकड़ी व उपली के नीचे शव देखकर चीख पड़ी। मौके जुटे ग्रामीणों ने लकड़ी हटाकर शव निकाला गया तो वह प्रियांशु का निकला। इससे स्वजनों में कोहराम मच गया। पिता सूबेदार यादव के किसी पर आरोप न लगाने से स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी। छानबीन में मदद के लिए बुलाया गया खोजी कुत्ता घटनास्थल के स्थान से उसी के घर के भीतर ही चक्कर लगाता रह गया। थानाध्यक्ष जगदीश कुशवाहा ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस