जागरण संवाददाता, जौनपुर : वैश्विक महामारी के चलते हुए लॉकडाउन में गरीब-गुरबों व असहायों को भूखे न सोना पड़े इसके लिए जिला प्रशासन कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहा है। विभिन्न संगठनों द्वारा जहां खाद्यान्न व भोजन बनाकर दिया जा रहा है वहीं हर तहसील में रैन बसेरा खोलकर उन्हें छांव भी दिया जा रहा है। उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण समेत अन्य सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी। वर्तमान में लॉकडाउन के कारण कुछ व्यक्तियों के सामने रहने आदि की समस्या होने से वह इधर-उधर टहल रहे हैं। इसे देखते हुए डीएम के निर्देश पर तहसीलों में 100-100 बेड का रैन बसेरा बनाया गया है। जिले में कोई भी व्यक्ति इधर-उधर न टहले और अपनी सुविधा को देखते हुए इन बसेरों पर जाकर ठहर सकते हैं।

कहां-कहां की गई है व्यवस्था

सदर तहसील में मोहम्मद हसन इंटर कालेज यहां के लिए नोडल अधिकारी तहसीलदार सदर, ईओ नगर पालिका जौनपुर बनाए गए हैं। मड़ियाहूं में स्वामी विवेकानंद इंटर कालेज में नोडल एसडीएम व नगर पंचायत ईओ, मछलीशहर में बिहारी महिला विद्यालय, में नोडल एसडीएम, नगर पंचायत ईओ, सर्वजन इंटर कालेज मुंगराबादशाहपुर नोडल नायब तहसीलदार, नगर पंचायत ईओ, शाहगंज में सर सैय्यद इंटर कालेज सबरहद नोडल एसडीएम व नगर पालिका ईओ दिनेश कुमार, केराकत में शिवमूर्ति आलिका इंटर कालेज एसडीएम, नगर पंचायत ईओ को, बदलापुर में सल्तनत बहादुर इंटर कालेज में एसडीएम व नगर पंचायत ईओ को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

बोले अधिकारी

जिला मुख्यालय से लेकर तहसीलों पर रैन बसेरा बनाया गया है। यहां पर चारपाई, गद्दा, बेड, पीने का पानी, शौचालय आदि की समुचित व्यवस्था कराई गई है। यहां सफाई नियमित रूप से कराई जाएगी। रैन बसेरा में पालीवार कर्मचारी की तैनाती करके एक रजिस्टर रख उसमें आने-जाने वाले लोगों के नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि अंकित कराएं, अगल-बगल बेघर टहलने वाले व्यक्तियों को रैन बसेरा में ले जाकर व्यवस्थित कराते हुए उनको सुबह-शाम भोजन आदि की व्यवस्था कराया जाना सुनिश्चित करें। इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय बल्कि सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की जाय।

-डा.सुनील कुमार वर्मा, एडीएम स्थानीय निकाय।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस