जलालपुर के नेवादा गांव की घटना

जागरण संवाददाता, जलालपुर (जौनपुर): अवैध खनन की शिकायत पर आई यूपी-100 पुलिस ने रविवार को नेवादा गांव में खोदाई में प्रयुक्त जेसीबी मशीन पकड़ ली। थाने ले जाकर सीज कर कार्रवाई करने की बजाय रास्ते में पुलिस ने उसे छोड़ दिया। इसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है।

नेवादा गांव के निवासी अरविद सिंह, बबलू सिंह समेत कई लोगों ने बताया कि गांव के पास नेवादा, बैरगिया, शुकलान आदि गांवों समेत अन्य क्षेत्र और खेतों के जल निकासी के लिए वर्षों पुराना नाला था। जिसे जेसीबी लगाकर अवैध खनन करने वालों ने बगैर पुलिया का निर्माण किए पाट दिया है। जेसीबी वहां एक भीटा से मिट्टी खनन कर ट्रैक्टरों पर लादने के लिए मंगाई गई थी। ग्रामीणों ने यूपी-100 पर पुलिस को सूचना दी। कुछ ही देर बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने खनन रोकवाकर जेसीबी कब्जे में ले ली। ग्रामीणों से कहा कि जेसीबी को कार्रवाई के लिए थाने ले जा रहे हैं लेकिन थाने जाने पर जेसीबी नहीं मिली। ग्रामीणों का आरोप है कि यूपी-100 के पुलिस कर्मियों ने सुविधा शुल्क लेकर बीच रास्ते से ही जेसीबी छोड़ दिया। थानाध्यक्ष निरीक्षक विनय प्रकाश सिंह ने कहा कि पूरे प्रकरण से अनभिज्ञता जताई है। उन्होंने कहा कि थाने पर न तो ऐसी कोई सूचना और न ही जेसीबी मशीन आई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप