जागरण संवाददाता, जौनपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से जरूरी निर्देश दिया। उन्होंने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के प्रति सचेत करते हुए कहा कि अभी से सतर्कता बरतने की जरूरत है। उन्होंने जनपद में चल रही योजनाओं के प्रगति की समीक्षा भी की। मुख्यमंत्री ने निर्देशित किया कि मौसम के विपरीत परिस्थितियों में जागरूक रहने की आवश्यकता है। अपने-अपने विभागों की बैठक करें। कहा कि जिस प्रकार से प्रदेश में कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए प्रभावी कार्य किया गया उसी तरह जेई, एईएस, मलेरिया, डायरिया, चिकनगुनिया, डेंगू जैसी चुनौतियों से निपटने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करने की आवश्यकता है। कहा कि 21 जून को विश्व योग दिवस के अवसर से कोरोना क‌र्फ्यू में छूट दी जाएगी, लेकिन ध्यान रखें कि कोरोना समाप्त नहीं हुआ है। कोरोना प्रोटोकाल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें। वायरस कमजोर हुआ है परंतु समाप्त नहीं हुआ है। वीडियो कांफ्रेंसिग में जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ल, मुख्य चिकित्साधिकारी डाक्टर राकेश कुमार, अपर जिलाधिकारी भू राजस्व राजकुमार द्विवेदी, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय आदि उपस्थित थे। विद्युत बकाए की वसूली पर बल

जौनपुर: जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने शनिवार को स्वयं सहायता समूह, कोटेदार, जिला सहकारी बैंक के अधिकारियों के साथ बैठक कर बिजली बकाए की वसूली पर बल दिया। विद्युत बकाए की वसूली के लिए सक्रिय एजेंटों की संख्या बढ़ाए जाने को निर्देशित किया। कहा कि इस प्रकार से विद्युत बिल वसूली में ग्रामीण उपभोक्ताओं को सुविधा होगी और एजेंट के माध्यम से बिल वसूलने से प्राप्त कमीशन से एजेंट्स की आय में भी वृद्धि होगी।

Edited By: Jagran