जागरण संवाददाता, नौपेड़वा (जौनपुर) : यूनियन बैंक आफ इंडिया वाराणसी के जनरल मैनेजर विकास कुमार ने कहा कि बैंक ग्राहक समय से ऋण का भुगतान कर अतिरिक्त अधिभार से बचें। उन्होंने क्षेत्र के दस बैंकों से पहुंचे करीब पांच सौ ऋण उपभोक्ताओं का करीब एक करोड़ का ऋण समझौता करवाया। यूबीआइ नौपेड़वा शाखा में मंगलवार को आयोजित ऋण मुक्ति शिविर में जीएम ने एक-एक उपभोक्ताओं से रूबरू होते हुए समय से भुगतान को कहा। कहा कि उपभोक्ता अपने अधिकारों को जाने, बैंक से जुड़ें तथा उससे होने वाले लाभ को प्राप्त करें। बैंक से संतुष्ट न होने पर उसकी शिकायत भी करें। कहा कि समय-समय पर बैंक ग्राहकों के लाभ के लिए तमाम योजनाएं संचालित करती है। बैंक से जुड़े रहने पर ही उसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि बैंक ऋण उपभोक्ताओं के लिए यह सुनहरा अवसर है जिसमें एकमुश्त बकाया समझौता कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इस दौरान जनपद के क्षेत्रीय प्रबंधक रजत कुमार नंदा, चीफ मैनेजर वैद्यनाथ, रवि कुमार, रंजन सिंह, प्रबंधक कुमुद कुमार, अभय मौर्य, अजय उपाध्याय, सुरेंद्र यादव, संतोष यादव आदि मौजूद रहे। नौपेड़वा शाखा के प्रबंधक उमेश चंद सिंह ने आभार जताया।

Edited By: Jagran