जागरण संवाददाता, थानागद्दी (जौनपुर): चंदवक थाना क्षेत्र के गोबरा गांव में करीब एक पखवाड़े पूर्व स्टेब्लाइजर फटने से झुलसे दूसरे युवक ने भी शुक्रवार की रात उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। उसके बड़े भाई की एक सप्ताह पूर्व मौत हो गई थी। दो जवान बेटों की मौत से घर में कोहराम मच गया है। स्वजन के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

उक्त गांव निवासी बीरबल यादव घर से कुछ दूरी पर स्थित अपनी पाही पर पंपिग सेट चलाने के लिए स्टेब्लाइजर लगा रखा था। करीब एक पखवाड़े पहले शार्ट सर्किट के कारण स्टेब्लाइजर में आग गई। स्टेब्लाइजर से धुआं उठते देख बीरबल के दोनों पुत्र 23 वर्षीय सूर्यकांत यादव व 18 वर्षीय सौरभ यादव आग बुझाने दौड़े। बचाव कार्य के दौरान बाल्टी भरा पानी फेंकते ही स्टेब्लाइजर तेज धमाके के साथ फट गया। चपेट में आने से दोनों बुरी तरह झुलस गए। स्वजन ने दोनों को वाराणसी ले जाकर भोजूवीर स्थित नर्सिंग होम में भर्ती कराया। पिछले सप्ताह सूर्यकांत यादव ने दम तोड़ दिया था। उसकी मौत के सदमे से स्वजन उबर भी नहीं सके थे कि शुक्रवार की रात सौरभ यादव की भी मौत हो गई। यह मनहूस खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया। स्वजन के करूण-क्रंदन से पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है। ढांढ़स बंधाने के लिए पहुंचने वाले ग्रामीणों व नात-रिश्तेदारों की भी आंखों से आंसुओं की धार फूट पड़ रही है।

Edited By: Jagran