जागरण संवाददाता, जौनपुर : जिले में वर्ष 2021-22 के लिए वार्षिक ऋण वितरण का प्लान तैयार कर लिया गया है। इसके तहत अग्रणी बैंक यूबीआइ की तरफ से सभी बैंकों की शाखाओं के लिए ऋण वितरित करने का लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया है। इस बार जिले भर में दो हजार 345 करोड़ का ऋण वितरित करने का लक्ष्य रखा गया है। इसमें कृषि, शिक्षा, आवास, उद्योग समेत विभिन्न क्षेत्रों में ऋण वितरण के लिए कार्य किया जाएगा।

अग्रणी बैंक यूबीआइ की तरफ से वार्षिक ऋण वितरण का प्लान तैयार किया जाता है। इसके बाद शासन को स्वीकृत करने के लिए भेजा जाता है। जहां से मंजूरी मिलने के बाद इसको जिलाधिकारी की अध्यक्षता में वित्तीय वर्ष 2021-22 की वार्षिक ऋण योजना पुस्तिका का विमोचन किया जाता है। इसी के आधार पर सालभर ऋण वितरण का कार्य किया जाता है। जिलाधिकारी का सख्त निर्देश होता है कि पात्रता पूरी करने वाले आवेदकों को ऋण वितरण के लिए चक्कर न लगवाया जाए। बैंक संबंधित योजनाओं का लाभ आम लोगों को अवश्य दे। बैंक हालात के मुताबिक कार्यशैली में सुधार करे। पुस्तिका के आधार पर जिले में कृषि व लघु उद्योग के लिए ऋण वितरण पर विशेष जोर दिया जाता है।

इन क्षेत्रों में ऋण वितरण का रखा गया लक्ष्य

कृषि के क्षेत्र में 1737 करोड़, लघु उद्योग के क्षेत्र में 446 करोड़, शिक्षा के क्षेत्र में 26 करोड़, आवास के क्षेत्र में 42 करोड़, सामाजिक क्षेत्र में 68 करोड़ का लक्ष्य रखा गया है।

जिले की इन बैंक शाखाओं में किया गया निर्धारित

जिले में 20 बैंकों की 350 शाखाएं हैं। 12 राष्ट्रीयकृत बैंक की 200 शाखा, पांच प्राइवेट बैंक की 14 शाखा, बड़ौदा यूपी बैंक की 110 शाखा, यूपी कोआपरेटिव बैंक की 21 शाखा, भूमि विकास बैंक की पांच शाखाएं हैं।

बोले जिम्मेदार..

अग्रणी बैंक होने के नाते यूबीआइ की तरफ से वार्षिक ऋण वितरण का लक्ष्य तैयार किया गया है। इसके तहत सभी बैंकों को उनके ऋण का लक्ष्य दिया जाता है। इसमें कृषि, लघु उद्योग, शिक्षा, आवास, सामाजिक क्षेत्र पर विशेष ध्यान दिया जाता है।

-अनिल कुमार सिन्हा, अग्रणी जिला प्रबंधक।

Edited By: Jagran