जागरण संवाददाता, जौनपुर: पुलिस साइबर अपराधियों पर शिकंजा कसने में नाकाम साबित हो रही है। भाई-बहन सहित तीन के बैंक खातों से साइबर अपराधियों ने फिर 61 हजार रुपये उड़ा लिया।

मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के नदियाव गांव की शिवांगी पटेल पुत्री रमेश पटेल इंटरमीडिएट की छात्रा है। पिता ने उसके नाम से यूनियन बैंक की बेलवां शाखा में खाता खोलकर 40 हजार रुपये व पुत्र आकाश पटेल के नाम से 400 रुपये जमा किए थे। गत 11 जनवरी को मोबाइल फोन पर काल करने वाले ने खुद को यूनियन बैंक का कर्मचारी बताया। कहा कि आपका एटीएम कार्ड एक्सपायर हो गया है। एटीएम चालू रखना चाहते हैं तो पिन नंबर बताइए। उन्होंने कुछ सोचे-समझे बिना पिन नंबर बता दिया। 15 जनवरी को उसी ने फिर मोबाइल फोन पर काल कर बताया कि शिवांगी के खाते से 40 हजार व उनके पुत्र आकाश पटेल के खाते से 400 रुपये गायब हो गए हैं। यदि पैसा वापस चाहते हैं तो पांच हजार रुपये और भेजिए। रमेश पटेल ने बैंक पहुंचकर छानबीन की तो पता चला कि 11 जनवरी को ही दोनों खातों से 40400 रुपये गायब हो गए हैं। शिकायत किए जाने पर शाखा प्रबंधक ने एटीएम ब्लॉक कर दिया।

सिगरामऊ निवासी व्यवसायी राकेश कुमार मोदनवाल की बैंक के बगल में मिठाई की दुकान है। वह वक्रांगी केंद्र संचालक के साथ एटीएम में अपना कार्ड सही कराने गए थे। वहां पहले से मौजूद एक युवक ने एटीएम का पिन नंबर पूछकर खाते से 21 हजार रुपये उड़ा लिए। राकेश को इसकी जानकारी तब हुई जब उनके मोबाइल फोन पर खाते से रुपये गायब होने का मैसेज आया। पीड़ित की शिकायत पर बैंक व पुलिस प्रशासन छानबीन में जुटी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस