जौनपुर: खुशखबरी! वर्षों से ओवर ब्रिज के लिए हो रहा इंतजार अंतत: खत्म हो गया है। सिटी स्टेशन के समीप मिर्जापुर मार्ग पर ओवर ब्रिज बनाने का काम सेतु निगम ने शुरू कर दिया है। सेतु निगम ने ओवर ब्रिज बनाने के लिए सफाई कार्य जेसीबी लगाकर प्रारंभ भी कर दिया है। बुधवार को शासन ने वर्षों पहले शहर को जाम से मुक्त करने और सुगम यातायात के लिए तीन स्थलों पर ओवर ब्रिज बनाने का फैसला किया। जन प्रतिनिधियों की पहल पर शुरू हुई इस कवायद में ओवर ब्रिज वाराणसी-लखनऊ रेल प्रखंड पर बनाने का प्रस्ताव भेजा गया। वाराणसी मार्ग स्थित जगदीशपुर रेलवे क्रा¨सग, इलाहाबाद मार्ग स्थित नईगंज रेलवे क्रा¨सग तथा मिर्जापुर मार्ग पर सिटी स्टेशन के समीप रेलवे क्रा¨सग पर बनाए जाने का प्रस्ताव शामिल था। तीनों प्रस्तावों के बाद शासन स्तर से शुरू हुई कवायद के बाद लोगों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी थी। लोगों का मानना था कि नगर में जाम का प्रमुख कारण माने जाने वाले इन क्रा¨सगों पर वाहनों की कतार लगनी बंद हो जाएगी जिससे जाम की समस्या का निदान हो जाएगा, ¨कतु शासन ने प्रथम चरण में तीन वर्ष पहले सिटी स्टेशन के समीप मिर्जापुर मार्ग पर ओवर ब्रिज बनाने का निर्णय लिया। इसके लिए विभागों का उत्तरदायित्व निर्धारण करते हुए बजट भी तय कर दिया। कई किश्तों में संबंधित विभाग को बजट भी उपलब्ध करा दिया। ओवर ब्रिज निर्माण कार्य शुरू कराने के लिए बाईपास बनाने का भी काम शुरू हुआ। मंद गति से यह भी कार्य अब पूर्ण कर लिया गया है। इसके बाद ओवर ब्रिज बनने का कार्य सेतु निगम ने शुरू कर दिया। कार्यस्थल पर बुधवार की सुबह से जेसीबी मशीन लगाकर दिन भर सफाई कार्य कराया गया।

49 करोड़ की है परियोजना

ओवर ब्रिज बनाने के लिए शासन ने कुल लागत 49 करोड़ रुपये निर्धारित किया था। इसके लिए कई विभागों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसमें बाईपास निर्माण के लिए 16 करोड़ 88 लाख रुपये खर्च किया जाना भी शामिल था। इसके अलावा 24 करोड़ पांच लाख रुपये पुल बनाने के लिए खर्च किया जाएगा। शेष रेलवे आदि विभागों से खर्च किया जाना है। काम कराने के लिए शासन ने सभी विभागों को धन उपलब्ध करा दिया।

रूट डायवर्जन के बाद आएगी तेजी

उप परियोजना प्रबंधक सेतु निगम केएन ओझा ने बताया कि रूट डायवर्जन के बाद काम में तेजी आएगी। जेसीबी लगाकर सफाई कार्य कराया जा रहा है। टीडी कालेज के पीछे से वन विहार रोड होते हुए मड़ियाहूं-मिर्जापुर मार्ग से जोड़ दिया गया है। उधर इलाहाबाद मार्ग स्थित पकड़ी तिराहे से मड़ियाहूं मार्ग को जोड़ दिया गया है। ओवर ब्रिज निर्माण कार्य शुरू करने के लिए पालीटेक्निक चौराहा-मड़ियाहूं मार्ग पर कार्य स्थल तक ठप किया जाना है। इसके बाद कार्य शुरू हो जाएगा। इस कार्य के लिए बाईपास का निर्माण कार्य कराने वाले अधिशासी अभियंता निर्माण खंड द्वितीय से बैठक की जा रही है।

तालमेल बैठाकर कराया जाएगा कार्य: डीएम

जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने बताया कि सेतु निर्माण कार्य शुरू करने के लिए 17 मार्च से कहा गया था। निर्माण कार्य शुरू हो गया है। रूट डायवर्जन के लिए सेतु निगम और पीडब्ल्यूडी को तालमेल बैठाकर काम करने को कहा गया है।

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट