स्लग : अधूरी व्यवस्था

दृश्य एक :

प्लेटफार्म नंबर एक पर रैंप का निर्माण किया जाना है, लेकिन वह अभी तक नहीं कराया जा सका है। 17 मार्च को मुख्य संरक्षा आयुक्त का निरीक्षण होना है। ऐसे में अगर इस अधूरी व्यवस्था पर दौरा करा दिया जाएगा तो भला आगे होने वाले कार्यो की गुणवत्ता की परख किस प्रकार हो सकेगी। खास बात यह है कि प्लेटफार्म नंबर दो पर यह सुविधा शुरू की जा रही है। प्लेटफार्म नंबर एक पर अभी तक काम नहीं किया गया।

---------------------

दृश्य दो :

ए श्रेणी के रेलवे स्टेशन के हिसाब से पैनल बिल्डिंग तो खड़ी कर दी गई, लेकिन वहां से निकलने वाली सड़क की व्यवस्था को पूरा नहीं किया जा सका है। ऐसे में स्टाफ को मोटरसाइकिल ले जाने में कठिनाई होगी। सामने खुली नाली को भी दुरुस्त नहीं कराया जा सका है।

--------------

दृश्य तीन : भुआ से सरसौखी तक ट्रैक पर गिट्टी की कमी को लेकर हाल में मंडलीय अभियंता सुधीर कुमार ने ट्राली से निरीक्षण के दौरान आरवीएनएल के अधिकारियों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे, लेकिन गिट्टी की कमी को अभी तक पूरा नहीं किया जा सका है। जागरण संवाददाता, उरई :रेल परियोजनाओं को पूरा करने में अभी भी काफी विलंब है। आगामी 17 मार्च को मुख्य संरक्षा आयुक्त का निरीक्षण प्रस्तावित है। इसके बावजूद काम कच्छप गति से चल रहा है। दैनिक जागरण ने यार्ड की स्थिति का जायजा लिया। तो निष्कर्ष निकला कि रेलवे स्टेशन पर अभी भी बहुत से काम बाकी हैं। अजनारी क्रॉसिग पर डाली गई नई लाइन के नीचे खुदाई करवाई गई तो ट्रक के नीचे स्लीपर टूटा निकला। इसी तरह अनेकों कमियां बनी हुई हैं। अधूरे काम में दौरा कराए जाने की योजना बनाई जा रही है। ऐसे में भला गुणवत्ता कैसे दिखे। जल्दबाजी में आरवीएनएल के अधिकारी भी काम को सही रूप नहीं दे पा रहे हैं।

-----------------------------------

दोहरीकरण के कार्य में तेजी लाई जा रही है। 17 मार्च के निरीक्षण को देखते हुए मानक के अनुसार करने की कोशिश की जा रही है, जो भी कमियां हैं उसे तब तक दुरुस्त कर दिया जाएगा।

प्रियांक गुप्ता, प्रोजेक्ट डायरेक्टर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021