संवाद सहयोगी, कालपी :

सोमवार की रात नगर पालिका कर्मी के घर हुई चोरी में पुलिस ने कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है। पुलिस व एसओजी की टीम भी मामले के राजफाश में लगी है।

मोहल्ला गणेशगंज में पालिका के सेवानिवृत्त कर्मी अशोक व्यास के घर सोमवार की देर रात चोरों ने नकदी सहित लगभग साढ़े 11 लाख की चोरी कर ली थी। पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस मामले के राजफाश के लिए हर बिदु पर जांच में जुटी है। कोतवाली पुलिस जितने भी अपराधी जमानत पर बाहर हैं सभी को तलाशा रही है। कई संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। अशोक व्यास का घर घनी बस्ती के बीच में है और उनके घर पर एक किरायेदार भी रहता है। चोरों ने किरायेदार के कमरे की कुंडी बाहर से लगा दी थी। एसओजी की टीम भी संदिग्ध लोगों के मोबाइल नंबरों को सर्विलांस पर लगाकर मामले के खुलासे में जुटी हुई है। कोतवाल संतोष कुमार सिंह ने बताया कि चोरी की घटना के खुलासे के लिए पुलिस टीम जुटी हैं। हिरासत मे लिए लोगों से पूछताछ जारी है जल्द ही राजफाश होगा। प्रधान के पुत्र की हत्या में संदिग्धों से पूछताछ जारी

जागरण संवाददाता, उरई : एट थाना क्षेत्र के ग्राम ईंगुई कला में पूर्व प्रधान के पुत्र की हत्या का मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनके पूछताछ की जा रही है। हालांकि अब तक की तफ्तीश में मिले तथ्यों को पुलिस ने सार्वजनिक नहीं किया है।

ग्राम ईंगुई कला में शनिवार की रात पूर्व प्रधान रामलखन के पुत्र रामसेवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पांच दिन की जांच के बाद पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची।संदेह है कि घटना में किसी करीबी का हाथ हो सकता है, लेकिन ठोस साक्ष्यों के बिना पुलिस करीबी पर हाथ डालने से फिलहाल परहेज कर रही है। रामसेवक के मोबाइल फोन के सीडीआर से कुछ संदिग्धों को चिन्हित किया गया है। इसी कड़ी में बुधवार को पांच लोगों को हिरासत में लेकर उनके पूछताछ की गई। जिस दिशा में पुलिस की जांच कर रही है उस लिहाज से अनुमान लगाया जा रहा है कि वारदात की वजह अवैध संबंध हो सकते हैं। लेकिन स्वजन से इस संबंध में पुलिस को कोई क्लयू नहीं मिल रहा है। प्रभारी निरीक्षक विनय दिवाकर का कहना है कि अलग अलग बिदुओं पर छानबीन जारी है। जल्द कातिलों की पहचान हो सकती है। हालांकि अभी कोई ठोस सुराग नहीं मिला है। एसओजी व सर्विलांस की टीम भी जांच में जुटी रही।

Edited By: Jagran