जागरण संवाददाता, उरई : डीआरएम के निरीक्षण की जानकारी पर गुरुवार को रेलवे स्टेशन पर व्यवस्थाएं बदली सी नजर आईं। यहां तक कि स्टेशन परिसर में बनाए गए फौव्वारे जो कभी नहीं चलते थे वे बौछार छोड़ रहे थे। वहीं स्टेशन पर परिसर पर डीआरएम को व्यवस्थाएं ठीक नहीं मिली। इस पर डीआरएम भड़क गए और व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का निर्देश दिया।

गुरुवार को रेलवे स्टेशन पहुंचते ही डीआरएम संदीप माथुर ने परिसर में रखे गए डस्टबिन को लेकर कहा, यह डस्टबिन ढक्कनयुक्त होना चाहिए। खुले में रखने से यात्रियों को बीमारियां हो सकती हैं। इसके बाद परिसर में बनाए गए दिव्यांग साइकिल स्टैंड में खड़े वाहन देख नाराजगी जताई। इस दौरान आरपीएफ इंस्पेक्टर राजीव उपाध्याय से कहा, सभी मोटरसाइकिलों को बनाए गए साइकिल स्टैंड में खड़ी कराएं। सफाई देते हुए इंस्पेक्टर ने कहा, चालान किया जाता है, लेकिन फिर भी लोग अपनी मोटरसाइकिलें खड़ी कर देते हैें। डीआरएम ने पूछा अभी तक कितने वाहनों का चालान किया गया है। बाद में वे टिकट विडों पर पहुंचे, वहां व्यवस्था देख उन्होंने नाराजगी जाहिर की। टिकट विडों के बाहर लिखे गए शब्दों के लिए कहा, यह अपने-अपने स्थान पर रहना चाहिए। दिव्यांगों के लिए बनाए गए शौचालय के बाहर नाम भी लिखा जाना चाहिए। स्टेशन अधीक्षक (एसएस) रूम में जाकर देखा तो वहां एनाउंस की आवाज तेजी से बज रही थी उन्होंने ध्वनि धीमी कराने का निर्देश दिया। स्टेशन मास्टर कक्ष में डीआरएम ने सभी अभिलेखों चेक किए। इसके बाद मुख्य टिकट निरीक्षक में भी खामियां देख दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। कैंटीन के निरीक्षण के दौरान पता चला कि स्टेशन परिसर में बनाए गए कैंटीन से लगभग 11000 रुपये की आमदनी होती है। कैंटीन संचालक से डीआरएम ने कहा कि सभी यात्रियों को बिल जरूर दें। इसके बाद ओवरब्रिज पर चढ़कर यार्डों का निरीक्षण किए। पत्रकारों से वार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि स्टेशन पहले से स्वच्छ है, लेकिन अभी और स्वच्छता की जरूरत है। स्टापेज को लेकर बताया कि जिस ट्रेन में सबसे ज्यादा यात्रियों की संख्या रहेगी उसी ट्रेन के स्टापेज बढ़ाए जाएंगे। सीसीटीवी को लेकर बताया कि सभी सामान आ गए हैं। जल्द ही इसे लगवा दिया जाएगा। माल गोदाम में बरसात के समय पानी की समस्या को लेकर टीन शेड भी जल्द ही लगवा दिया जाएगा। कूड़े को लेकर उन्होंने स्थानीय लोगों से आग्रह किया कि स्टेशन के बगल कूड़ा न फेंके। बाउंड्रीवाल का काम भी जल्द ही शुरू हो जाएगा। प्लेटफार्म संख्या एक की तरह ही प्लेटफार्म दो को भी सुधारा जाएगा। इस दौरान डीइएन लाइन रंजन श्रीवास्तव, डॉ. जितेंद्र त्रिपाठी व एडीइएन तुषार बंसल मौजूद रहे। पटरी की मरम्मत के लिए ट्रैक रहा ब्लाक

गुरुवार को रिनियां क्रासिग गेट नंबर 179 के पास 10:40 से 1:11 तक ट्रैक ब्लाक किया गया था। इसके चलते लखनऊ से (पुष्पक एक्सप्रेस) मुंबई को ओर जाने वाली ट्रेन इसके चलते करीब एक घंटे तक उरई स्टेशन के प्लेट फार्म नंबर तीन पर रोकना पड़ गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप