संवाद सहयोगी, कोंच : खेती में पैदावार बढ़ाने व महिलाओं में खेती का आकर्षण बढ़ाने के उद्देश्य को लेकर सोमवार को प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चर के तहत एक गोष्ठी राजकीय बीज भंडार केंद्र पर की गई।

गोष्ठी में मौजूद महिला किसानों को संबोधित करती हुई कृषि वैज्ञानिक डा. राजकुमारी ने कहा कि महिलाएं कृषि क्षेत्र से जुड़ें और अपनी भागीदारी बढ़ाते हुए कृषि इकाई को समझें। अपनी फसल की उपज को बढ़ाते हुए परिवार की आर्थिक स्थिति मजबूत करें। उन्होंने कहा कि जहां महिलाएं कृषि कार्य कर रही हैं वहां के किसान खुशहाल हैं। उनकी फसल की उपज भी बढ़ी है। कृषि विभाग महिलाओं को समय समय पर खेती बाड़ी के कार्य में प्रशिक्षण देता रहेगा। डा. रजनीश मिश्रा ने भी खेती करने के गुर बताते हुए किसानों से कहा कि फसलों के अवशेष कभी नहीं जलाना चाहिए इससे भूमि की उर्वरक शक्ति कम हो जाती है। साथ ही उन्होंने किसानों से कहा कि किसान अपनी भूमि पर खेती के साथ साथ पशु पालन, मुर्गी और बकरी पालन जैसे कार्य कर अधिक मुनाफा कमा सकता है। इस मौके पर बीज भंडार केंद्र प्रभारी हरचरण निरंजन, राजेन्द्र ¨सह, शत्रुघन ¨सह, चेतन प्रकाश गौरव, अनुज यादव, झुननी लाल, रोहित गुर्जर, नीरज, वहीदा बेगम, महादेवी सहित कई किसान मौजूद रहे।

Posted By: Jagran