जागरण संवाददाता, उरई : प्रधानमंत्री के आह्वान पर वर्ष 2025 तक क्षय मुक्त भारत बनाने के लिए सरकार जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग ले रही है। इसी क्रम में अब नवनिर्वाचित प्रधानों को इसके लिए विधिवत प्रशिक्षण देकर क्षय मुक्त भारत अभियान में उनका सहयोग लिया जाएगा। इसके लिए ब्लाकवार प्रशिक्षण शुरू भी हो गया है।

अपर मुख्य सचिव पंचायती राज विभाग की ओर से एक पत्र भी जारी किया गया है, जिसके मुताबिक, 15 सितंबर से 31 अक्टूबर तक सभी जनपदों में नवनिर्वाचित प्रधानों को शासन की नीतियों के बारे में प्रशिक्षित किया जाना है। जिसके लिए शासन ने बाकायदा प्रशिक्षण माड्यूल जारी किया है। जिसमें नवनिर्वाचित प्रधानों को ब्लाकवार क्षय रोग के बारे में भी प्रशिक्षित किया जाना है।

------------------------

जनपद स्तर पर ब्लॉकवार प्रशिक्षण की तिथियां

दिन - ब्लॉक

15 व 16 सितंबर डकोर

17 व 18 सितंबर जालौन

20 व 21 सितंबर कदौरा

22 व 23 सितंबर कोंच

24 व 25 सितंबर कुठौंद

27 व 28 सितंबर माधौगढ़

29 व 30 सितंबर महेबा

1 व 4 अक्टूबर नदीगांव

5 अक्टूबर रामपुरा

----------------------------------

जिले के 574 प्रधानों को दी जाएगी जानकारी

ब्लॉक के नवनिर्वाचित प्रधानों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिले के सभी 574 प्रधानों को इस प्रशिक्षण के जरिये बताया जाएगा कि वह क्षय रोग उन्मूलन में किस तरह मदद कर सकते हैं। उन्हें राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम (एनटीईपी) के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। जिसके लिए ब्लॉकवार जिला समन्वयकों को ड्यूटी भी लगा दी गई है।

--------------------------------------

प्रधानमंत्री जी ने वर्ष 2025 तक क्षय रोग की समाप्ति का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिए जनप्रतिनिधियों को क्षय रोग के विभिन्न पहलुओं जिसमें लक्षण, जांच, उपचार की सुविधाएं, निक्षय पोषण योजना आदि के बारे में प्रशिक्षित किया जाना है।

डा. सुग्रीव बाबू, जिला क्षय रोग अधिकारी

Edited By: Jagran