जागरण संवाददाता, उरई :कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रगौली में एक किसान ने गांव के बाहर पेड़ के सहारे फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। सुबह खाना खाने के बाद वह पानी लगाने के लिये खेत पर गया था। इसी दौरान उसने फांसी लगा ली। किसी ग्रामीण ने फांसी पर झूलते शव को देखा तो उसके परिवार वालों को सूचना दी। इसके बाद परिवार वाले बदहवास हालत में वहां पहुंच गये। घटना की जानकारी होते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव कब्जे में लिया। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि ट्रैक्टर खरीदने के लिये उसने साढ़े तीन लाख रुपये का बैंक से ऋण लिया था। जिसे न चुका पाने की वजह से वह तनाव के दौर से गुजर रहा था।

ग्राम रगौली निवासी जीतू उर्फ ¨पटू ठाकुर (35) पुत्र राजेंद्र ¨सह मंगलवार सुबह खाना खाने के बाद अपने खेत पर फसल में पानी लगाने की बात कहकर घर से निकला था। इसी दौरान उसने खेत के पास ही फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। घर वालों को इसका पता चला तो वे मातम में डूब गये। ग्रामीणों द्वारा सूचना दिए जाने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और फांसी पर झूल रहे शव को नीचे उतारा। प्रारंभिक छानबीन के बाद पुलिस ने पंचनामा भर शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। ¨पटू ने किस वजह से खुदकशी की अभी यह स्पष्ट नहीं है। प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र दुबे के मुताबिक मृतक के घर वालों ने बताया है कि उसने ट्रैक्टर खरीदने के लिये बैंक से साढ़े तीन लाख रुपये का ऋण लिया था। जिसकी किस्त चुकता न हो पाने की वजह से वह तनाव में रहता था। शायद इसी वजह से उसने खुदकशी की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस