संवाद सहयोगी, कोंच : कोंच इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के तत्वावधान में फेस्टिवल से जुड़े युवाओं ने 250 किमी साइकिल यात्रा का समापन पर्यटन विभाग झांसी के कार्यालय में किया।

समापन अवसर पर पर्यटन विभाग के उपनिदेशक आरके रावत, डा. चित्रगुप्त, दीवान हरदौल शोध संस्थान के अध्यक्ष पं साकेत बिहारी द्विवेदी, भक्त प्रहलाद जनकल्याण संस्थान एरच के अध्यक्ष अमित चौरसिया, अंकित दिवाकर आदि ने साइकिल चलाने वाले युवा ठाकुर कालेज ऑफ साइंस एंड कॉमर्स के असिस्टेंट प्रोफेसर आशीष रिछारिया, शिक्षक शुभम पटेल एवं कोंच इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के संस्थापक पारस मणि अग्रवाल को माला पहचानकर एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर हौसला अफजाई कर यात्रा का समापन किया। पर्यटन विभाग झांसी मंडल के उपनिदेशक आरके रावत ने कहा कि आज के युवा अपनी माटी अपनी संस्कृति से विमुख हो रहे हैं। बुंदेली माटी ने हम सबको बहुत कुछ दिया है। हम सबका भी कर्तव्य बनता है कि अपनी माटी अपनी संस्कृति के प्रति कुछ करने की सकारात्मक मानसिकता रखें। इतिहासकार डा. चित्रगुप्त ने भी युवाओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि कोंच फिल्म फेस्टिवल का प्रयास स्वागत योग्य है। युवाओं को अपनी माटी अपनी संस्कृति के लिए ऐसे ही आगे आना चाहिए क्योंकि एक अच्छे प्रांत का निर्माण पत्थर और चट्टानों से नहीं बल्कि उस राष्ट्र के कर्णधारों से होता है। दीवान हरदौल शोध संस्थान के अध्यक्ष पं साकेत बिहारी द्विवेदी एवं भक्त प्रहलाद जन कल्याण संस्थान के अध्यक्ष अमित चौरसिया ने भी समापन समारोह को संबोधित किया।

-----------

पंप कैनाल क्षतिग्रस्त सिचाई के लिए किसान परेशान

जासं, उरई : मौरंग खदान पर जाने वाले ओवरलोड ट्रकों ने पंप कैनाल को क्षतिग्रस्त कर दिया है। इससे किसानों को परेशानी हो रही है।

ग्राम पंचायत मोहाना के प्रधान जीतू राजपूत ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि मकरेछा पंप कैनाल पर माइनर की मरम्मत व पुलिया निर्माण के लिए बजट स्वीकृत हो गया है। घुरौली हमीरपुर व जालौन खदान से निकले मौरंग लदे ट्रकों ने पंप कैनाल को क्षतिग्रस्त कर दिया और वहां लगे पौधों को भी रौंद दिया है। क्षतिग्रस्त पंप कैनाल के कारण किसान सिचाई नहीं कर पा रहे हैं। प्रधान ने मामले की जांच कराकर कार्रवाई के साथ पंप कैनाल को दुरुस्त कराने की मांग की है। इसी तरह ग्राम मकरेछा निवासी धर्मेंद्र ने जिलाधिकारी से शिकायत की है कि उसका खेत से घुरौली खंड तीन के ठेकेदार ने जबरन रास्ता बना लिया है। जिससे वह फसल की बोआई नहीं कर पा रहा है। पीड़ित ने न्याय दिलाकर कानूनी कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

Edited By: Jagran